चीन में हुई इस घटना के बारे में जानकर हो जायेंगे हैरान, खर्राटे की वजह से हो गया खून-खराबा

बीजिंग: यह दुनिया बहुत बड़ी और आश्चर्यों से भरी हुई है। यहाँ कब क्या हो जाये कुछ नहीं कहा जा सकता है। आज के समय में कभी भी कुछ भी हो सकता है। आजकल लोग सोचते कुछ हैं और करते कुछ हैं। कुछ चीजें होती हैं, जिनपर मनुष्य का नियंत्रण नहीं होता है, लेकिन समझदारी से काम लेने पर किसी बड़ी घटना से आसानी से बचा जा सकता है। आज के समय में लोग इतने ज्यादा एग्रेसिव हो गए हैं कि उन्हें किसी की जरा सी भी बात पसंद नहीं आती है।

छोटी-छोटी बातों पर हो जाती है भयंकर लड़ाई:

कई बार हमारे-आस-पास इतनी छोटी-छोटी बात पर लड़ाई-झगड़ा हो जाता है, जिसके बारे में कोई सपने में भी नहीं सोच सकता है। आज लोगों के अन्दर सहिष्णुता की कमी होती जा रही है। यह बात सही है कि लोगों के व्यवहार के लिए वहाँ का माहौल बहुत मायने रखता है। जिस देश का प्राकृतिक वातावरण अच्छा होता है, वहाँ के लोग नम्र स्वभाव के होते हैं। आज हम आपको एक ऐसी घटना के बारे में बताने जा रहा है, जहाँ एक ऐसी बात के लिए खून-खराब हो गया, जिसके बारे में आपने कभी सोचा नहीं होगा।

खर्राटे ने करवा दिया व्यक्ति का खून:

आपने अपने आस-पास कई लोगों को देखा होगा जो सोते हैं तो जोर-जोर से खर्राटे लेते हैं। अगर आप भी उन्ही में से हैं तो अगली बार खर्राटे लेने से पहले सावधान हो जाएँ क्योंकि हो सकता है इसके लिए कोई आपका खून भी कर दें। जी हाँ चीन के नानजिंग में खर्राटे ने एक व्यक्ति का खून ही करवा दिया। खर्राटे की वजह से एक व्यक्ति को जेल भी जाना पड़ा। दरअसल चीन के नानजिंग के रहने वाले चेन पिछले दिनों फिल्म देखने सिनेमा हॉल गए हुए थे। इस दौरान उनकी आँख लग गयी और वह सो गए।

खर्राटे से परेशान होकर मार दिया गले में चाकू:

जैसे ही वह सोये उन्होंने जोर-जोर से खर्राटे लेने शुरू कर दिए। इस वजह से सिनेमा हॉल में मौजूद अन्य लोगों को फिल्म देखने में परेशानी होने लगी। इसके बाद लोगों ने चेन को जगा दिया। कुछ समय तक तो सबकुछ ठीक रहा लेकिन फिर चेन सो गए और उनके खर्राटे शुरू हो गए। इसकी वजह से चेन का वांग नाम के एक व्यक्ति से झगड़ा भी हो गया। अंग ने चेन को झगड़े के दौरान गले में चाकू मार दिया। मौके पर पुलिस ने पहुँचकर वांग को गिरफ्तार कर लिया और इलाज के लिए चेन को अस्पताल पहुँचा दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.