स्वास्थ्य

सर्दियों में इन बातों का रखें ख़ास ध्यान, नहीं होगी रूखी और बेजान त्वचा की समस्या

सर्दियों का मौसम आते ही त्वचा रूखी और बेजान होने लगती है. सर्द हवाएं हमारी स्किन को रूखा और खुरदुरा बनाने लगती हैं. इसलिए लोग सर्दी के मौसम में त्वचा की ख़ास देखभाल करते हैं. ठंड ने धीरे-धीरे अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है. लोगों की ख्वाहिश होती है कि उनकी त्वचा हर मौसम में दमकती रहे और इसके लिए वह हर संभव प्रयास भी करते हैं.

ठंड के दौरान वैसे भी जलवायु परिवर्तन के कारण त्वचा की स्थिति काफी बुरी हो जाती है. जलवायु से त्वचा में व्यापक बदलाव आता है. इसलिए जरूरी है कि ठंड के समय आप अपनी त्वचा की देखभाल के लिए कुछ अलग करें. आपका पूरा ध्यान खूबसूरत, बिना मुहांसे वाले, मुलायम और कम फटी त्वचा हासिल करने की होनी चाहिए. ठंड के समय अलग से स्किन केयर की जरूरत पड़ती है और आप इसे अपना कर त्वचा की सही ढंग से देखभाल कर सकते हैं. तो आईये जानते हैं किस प्रकार आप ठंड के मौसम में भी अच्छी और मुलायम त्वचा हासिल कर सकते हैं.

धूप से बचें

सनप्रोटेक्शन क्रीम सिर्फ गर्मी के मौसम में नहीं  बल्कि सर्दी के मौसम में भी इस्तेमाल करना चाहिए. सर्दी की धूप भी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकती है. इसलिए घर से बाहर निकलने से पहले सही एसपीएफ वाली सनप्रोटेक्शन क्रीम जरूर लगाएं.

पानी का अधिक सेवन

सर्दी के मौसम में लोग ज्यादा पानी नहीं पीते. शरीर में पानी की मात्रा कम न हो इसलिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना ज़रूरी है. स्वस्थ बने रहने के लिए सर्दी के महीनों में भी खूब पानी पियें.

नमी बनाये रखें

सर्दी के मौसम में त्वचा की देखभाल की बहुत जरूरत होती है. सर्दी के मौसम में त्वचा पर उस मौइश्चराइजर का प्रयोग न करें  जो वाटर बेस्ड हो.  इस मौसम में ऑयल बेस्ड मौइश्चराइजर का प्रयोग ही करें. ऐसा इसलिए  क्योंकि ऑयल बेस्ड मौइश्चराइजर त्वचा पर सुरक्षा कवच का काम करता है. यह किसी भी क्रीम या लोशन से ज्यादा नमी बनाए रखता है. इस के अलावा बादाम के तेल का प्रयोग भी कर सकते हैं.  बादाम का तेल रोमक्षिद्रों को बंद नहीं करता और त्वचा को जीवंत बनाए रखने में भी सहायक होता है.

फटी एड़ियां   

ठंड के दिनों में पैरों के लिए भी मौइश्चराइजर का इस्तेमाल करें. एड़ियों को मुलायम बनाये रखने के लिए जोजोबा ऑयल की कुछ बूंदों को गुनगुने पानी में मिलाकर उस में 15-20 मिनट तक अपने पैरों को रखें.  इसके बाद मृत त्वचा को एड़ियों से हटा लें.

नाखूनों की सुरक्षा

सर्दी के मौसम में नाखूनों में नमी बनी रहे इसलिए सप्ताह में 1 बार त्वचा में लगाए जाने वाले तेल से नाखूनों के आसपास मालिश करें. हाथों को धोने के बाद नाखूनों तथा उन के आसपास की त्वचा पर मौइश्चराइजर लगाएं.

गरम पानी से बचें

नहाने के लिए गरम पानी का प्रयोग करने से बचें.  यदि गुनगुने पानी से नहाना है तो कोशिश करें कि कम समय तक ही नहाएं. नहाने या शॉवर लेने के बाद त्वचा को मौइश्चराइज जरूर करें.  त्वचा की नमी को बरकरार रखने के लिए सप्ताह में 1 बार क्रीम आधारित मास्क का प्रयोग भी जरूर करें.

सही उत्पाद चुनें

ठंड के मौसम से त्वचा को सुरक्षित रखने के लिए मौइश्चराइजर का चुनाव करते समय यह ध्यान रखें कि मौइश्चराइजर की बोतल ढक्कन या फ्लैप वाली हो  न कि पंप वाली. पंप वाली बोतल का मौइश्चराइजर हाई वाटर बेस्ड होता है, जो कि आप की त्वचा को शुष्क कर सकता है.

अच्छी डाइट

ठंड में उन खाद्यपदार्थों को अपनी डाइट में शामिल करें जिन में ओमेगा 3 पाया जाता है. सर्दियों में फूलगोभी, ब्रोकोली, मशरूम, नाशपाती अन्य आदि का सेवन करें.

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close