अपनी बातों से गुदगुदाने वाले कादर खान की हालत हो गयी है इस कदर, देखकर आंसू निकल जायेंगे- देखिये

जब फिल्मों में कॉमेडी का नाम आता है तो हमारे ज़हन में जिस इंसान का सबसे पहले नाम आता है वह हैं कादर खान. कादर खान ऐसे दिग्गज अभिनेताओं में से रहे हैं जिनका नाम लेने भर से ही चेहरे पर मुस्कान आ जाती है. उन्होंने बॉलीवुड फिल्मों में अलग-अलग किरदार निभाए हैं. उनके द्वारा निभाए गए कुछ किरदार ने हमें जमकर हंसाया है तो कुछ किरदारों ने रोने पर मजबूर कर दिया. कादर खान का जादू 90 के दशक में बहुत चला था.

गोविंदा और कादर खान की जोड़ी तो बहुत मशहूर भी हुई थी. दोनों ने कई फिल्मों (हीरो नंबर 1, राजा बाबू, दुल्हे राजा, आखें) में साथ काम किया. लेकिन लोगों को अपनी बातों से गुदगुदाने वाले कादर खान अब ठीक से चल भी नहीं पाते. उन्हें बोलने में भी काफी तकलीफ़ होती है. वह सिर्फ अपने बेटे और बहू की बातों को ही समझ पाते हैं. हालांकि वह पहचान सभी को लेते हैं.

79 साल के हैं कादर खान

उनके ठीक से न बोल पाने का खुलासा एक इंटरव्यू के दौरान उनकी बहू शाइस्ता खान ने किया था. कादर खान की उम्र 79 साल की हो गयी है. शाइस्ता ने बताया कि कादर खान की देखभाल वह खुद और उनकी दो बेटियां मिलकर करती हैं. उनका ध्यान किसी बच्चे की तरह रखा जाता है. हम आपको बता दें कि इन दिनों कादर खान कनाडा में अपने बेटे सरफ़राज़ के साथ रह रहे हैं.

इन फिल्मों में किया काम

कादर खान के फ़िल्मी करियर की शुरुवात फिल्म ‘दाग़’ से हुई थी जो कि साल 1972 में आई थी. इसके अलावा उन्होंने अदालत, परवरिश, दो और दो पांच, याराना, खून का कर्ज, दिल ही तो है, कुली नंबर 1, तेरा जादू चल गया, हीरो नंबर 1, दूल्हे राजा सहित कई अन्य सुपरहिट फिल्मों में भी काम किया. उनकी आखिरी फिल्म 2015 में आई ‘दिमाग का दही’ थी.

चलने और बोलने में होती है तकलीफ़  

उनके बेटे सरफ़राज़ ने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में बताया था कि कादर खान को चलने फिरने में बहुत दिक्कत होती है. चलने के लिए उन्हें दोनों तरफ से सहारे की ज़रुरत होती है. कुछ कदम चलने पर ही उन्हें थकान हो जाती है और वह बैठ जाते हैं. उन्हें लगता है कि ज़्यादा देर चलने पर वह गिर जायेंगे. उन्होंने बताया कि हाल ही में पिता के घुटनों की सर्जरी भी कराई थी. सर्जरी कामयाब रही और डॉक्टर ने अगले ही दिन चलने की सलाह दी थी. लेकिन वह चलने के लिए हिम्मत नहीं जुटा पाए.

फिल्मों में दोबारा काम   

फिल्मों में दोबारा काम करने की बात पर सरफ़राज़ ने कहा कि उनके पास कनाडा की नागरिकता है. वह इंडिया तो जायेंगे लेकिन फिल्मों में काम नहीं करेंगे. इंडस्ट्री के लिए अब उनका मोह खत्म हो चुका है. ऐसा क्यों हुआ है इस सवाल पर सरफ़राज़ ने कहा, इंडस्ट्री का माहौल अब पहले जैसा नहीं रहा. लोगों के बीच दोस्ती यारी खत्म हो गयी है. अब लोगों को सिर्फ अपने काम से मतलब होता है. जब सरफ़राज़ से यह पूछा गया कि क्या वह अपने दोस्त गोविंदा और शक्ति कपूर को पहचानते हैं उन्होंने कहा, हां वह पहचानते हैं लेकिन बहुत स्लो बोलते हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.