अक्सर आपनें देखा होगा कि जो शिवभक्त होता है उनका नाम लेते हुए भांग की कई गिलास खाली कर देता है। लोग इस बात से अनजान रहते हैं कि भांग उन्हें कितना नुकसान पहुँचाती है। भांग को भगवान शिव का प्रसाद माना जाता है, जबकि डॉक्टरों की इसके बारे में बिलकुल ही उलट राय है। वह भाँग के सेवन को बिलकुल ही सही नहीं मानते हैं। भांग के सेवन करनें से कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। लेकिन भांग से कई फायदे भी होते हैं, जिनके बारे में कम लोग ही जानते हैं। आज हम आपको भांग से मिलनें वाले नुकसान और फायदों दोनों के बारे में बात करेंगे।

हर रूप में दिमाग के लिए हानिकारक है भांग:

इस बात से सभी लोग परिचित हैं कि भांग के सेवन से शरीर इन्द्रियां पर नियंत्रण खो देता है, इसीलिए लोग भांग खाते ही झुमने लगते हैं। इसके साथ ही भांग के कई अन्य नुकसान भी हैं जो अन्दर ही अन्दर शरीर को नष्ट करती है, लेकिन दिखाई नहीं देती है। भांग को कई तरह से इस्तेमाल में लाया जाता है। इसका शरबत के रूप में भी इस्तेमाल होता है, इसकी पत्तियों को पीसकर सीधे खाया जाता है और इसकी पत्तियों का धुम्रपान भी किया जाता है। यह हर रूप में दिमाग को नुकसान पहुँचाती है। ऐसा कहा जाता है कि भांग की कण इंसान की उन नसों पर अटैक करती है, जो सुख-दुःख, हँसी और उदासी से जुड़े होते हैं।

ध्यान केन्द्रित करनें में होती है दिक्कत:

इसलिए अक्सर दखा होगा कि जो भी भांग का सेवन करता है वह अत्यधिक हंसता है या रोता है। ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि भांग का नशा उतरनें के बाद उसका असर ख़त्म हो जाता है, जबकि ऐसा बिलकुल भी नहीं है, भांग का असर लम्बे समय तक दिमाग पर बना रहता है और धीरे-धीरे दिमाग को नुकसान पहुँचाता है। जो बच्चा भांग का सेवन करता है, उसका मन पढाई में नहीं लग पाता है। जो लोग ऑफिस में काम करते हैं अगर वह भांग का ज्यादा सेवन करते हैं तो काम में उनका मन नहीं लगता है, भांग की वजह से वह ध्यान केन्द्रित नहीं कर पाते हैं।

गर्भवती महिलाओं के लिए है भांग का सेवन बहुत ही नुकसानदायक:

भांग का सेवन इतना खराब होता है कि यह किसी भी व्यक्ति को पागल बना सकता है। कहा जाता है कि अगर कोई व्यक्ति लगातार 15 दिनों तक भांग का सेवन करे तो वह निश्चिततौर पर मानसिक समस्या से ग्रस्त हो जायेगा। गर्भवती महिलाओं के लिए भांग का सेवन बहुत ही नुकसानदायक होता है। इससे गर्भपात होनें की समस्या बनी रहती है। इसलिए डॉक्टर यही सलाह देते हैं कि गर्भवती महिलाओं को भूलकर भी भांग का सेवन नहीं करना चाहिए। भांग के सेवन से भूख ना लगनें की समस्या, काम के प्रति ध्यान ना केन्द्रित कर पाना, नींद ना आना, वजन कम हो जाना, चिडचिडापन और गुस्से जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

कई बिमारियों को ठीक करनें के काम आती है भांग:

इतने नुकसान के साथ ही भांग के सेवन के कई फायदे भी हैं, जिनके बारे में आयुर्वेद में बताया गया है। आयुर्वेद के अनुसार भांग के औषधि है जो कई बिमारियों को ठीक करनें के काम आता है। लेकिन यह तभी हो सकता है जब सिमित मात्रा में भांग का सेवन किया जाये। किसी भी चीज की अधिकता नुकसानदेह होती है। आज हम आपको भांग के सही इस्तेमाल के बारे में बतानें जा रहे हैं और साथ में इससे होनें वाले फायदे के बारे में भी।

भांग के सेवन से होनें वाले फायदे:

*- यदि किसी को हमेशा सर दर्द की समस्या रहती है तो भांग की पत्तियों के रस का अर्क बनाकर उसे अपने कान में 2-3 बूँद डाले। धीरे-धीरे सर दर्द की समस्या जड़ से ख़त्म हो जाएगी।

*- यह भी सही है कि भाँग के ज्यादा सेवन से व्यक्ति अपना मानसिक संतुलन खो देता है लेकिन इसका सही मात्रा में प्रयोग मानसिक रोगियों के लिए फायदेमंद भी है। मानसिक रोगों में 125 मिलीग्राम की मात्रा में आधी हिंग मिलाकर प्रयोग करना चाहिए।

*- भांग के सेवन से भूख ख़त्म भी होती है और सही मात्रा में सेवन करनें से भूख लगनें भी लगती है। इसके लिए काली मिर्च के साथ भांग की सही मात्रा का सेवन चिकित्सकीय सलाह के आधार पर करें। कुछ ही दिनों में भूख ना लगनें की समस्या से निजात मिल जायेगा।

*- भांग का सेवन सेक्सुअल एक्टिविटी बढ़ानें के लिए भी किया जाता है। जिन लोगों को इसकी समय हो वह डॉक्टर की सलाह से सही मात्रा में भांग का सेवन करें, जल्द ही समस्या से निजात मिलेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.