अपना बिजनेस खड़ा करना हम में से कई लोगों को सपना होता है लेकिन अक्सर पैसो की तंगी की वजह से ये सपना पूरा नही हो पाता है। क्योंकि बिजनेस के लिए चाहिए होती है एक मोटी रकम और इसी रकम का इंतजाम समय से नही हो पाता। इसकी वजह से कई आइडिया और सपने हमेशा के लिए खत्म हो जाती हैं। पर अब, अगर आपके पास बिजनेस करने का कौशल और आइडिया है तो ये जरूर पूरा होगा क्योंकि इस सपने को पूरा करने में सरकार आपकी मदद कर रही है। जी हां मोदी सरकार की प्रधानमंत्री रोज़गार सृजन कार्यक्रम के जरिए लोगों को बिजनेस शूरू करने के लिए लोन दिया जा रहा है जिसके तहत आठवीं पास लोग भी 10 लाख रुपए तक का लोन सरकार से ले सकते हैं।

बिजनेस के लिए मिलेगा 25 लाख तक का लोन

Advantage of noteban

इस योजना की खास बात ये है कि इसके लिए शैक्षणिक योग्यता सिर्फ आठवीं तक ही रखी गया है… हां अगर आपके पास इससे अधिक की शैक्षणिक योग्यता है तो आपको अधिक रकम का लोन मिल सकता है।सरकार की ओर से मिलने वाले इस लोन की राशि अधिकतम 25 लाख रखी गई है। इस लोन को लेने के लिए सरकार ने एक शर्त रखी है जिसके अनुसार आपको लोन लेने से पहले किसी बिजनेस या प्रोजेक्‍ट को शुरु करने की प्‍लानिंग करनी है। प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट देखने के बाद सरकार की ओर से खादी ग्रामोद्योग लोन जारी करेगा।

जनरल को भी मिलेगा फाएदा, विशेष वर्ग को रियायत

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम  (पीएमईजीपी), स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए मोदी सरकार का आर्थिक क्षेत्र में लिया गया ये बड़ा फैसला है। इसके तहत 18 साल से ऊपर का कोई भी व्यक्ति अपना बिजनेस शुरू करने के लिए लोन ले सकता है। यह शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्र के लोगों को मिलेगा। इस योजना का जहां जनरल कैटेगिरी के व्यक्ति भी फायदा उठा सकते हैं वहीं एससी, एसटी, ओबीसी, अल्पसंख्यक, महिलाएं, दिव्यांग, भूतपूर्व सैन्य कर्मी, उत्तर-पूर्व और पहाड़ी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को विशेष रियायत भी दी जाएगी। इस तरह के लोन के लिए स्वंय सहायता समूह, सोसाइटी और चैरिटेबिल संस्थान भी अप्लाई कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.