पुरानी कहावत है जिसको ढूंढ़ा गली-गली, वो चीज हमें घर में मिली। जी हां ये कहावत बाबा राम रहीम की राजदार हनीप्रीत पर बिल्कुल सटीक बैठती है। क्योंकि जिस हनीप्रीत को पुलिस लखीमपुर, देहरादून, नेपाल के पोखरा से लेकर बिहार के बक्सर सिवान जैसे जिलों में छिपी होने की ख़बर थी। वो हनीप्रीत दिल्ली में छिपी है। जी हां ये नया खुलासा हुआ है, बीते एक महीने से फरार हनीप्रीत के बारे में जो पुलिस की आंखों के सामने से फुर्र हो गई थी।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के जेल जाने के बाद उसकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत पुलिस के लिए सिरदर्द बन गयी है जिसकी तलाश में भारत से लेकर नेपाल तक की खुफिया एजेंसिया लगी हुई हैं। नेपाल में जगह जगह इसके लिए छापेमारी तक की जा चुकी है। वहां से कई सारी आ खबरें भी आई हैं जिसमे की नेपाल की स्थानीय जनता इस बात की पुष्टि कर रही थी कि हनीप्रीत वहीं छुपी हुई.. वहीं अब हनीप्रीत के वकील ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। दिल्ली के वकील प्रदीप आर्य की मानें तो सोमवार दोपहर को हनीप्रीत राजधानी दिल्ली में थी।

दिल्ली में हनीप्रीत ने अपने वकील से की मुलाकात

दरअसल सोमवार को हनीप्रीत ने दिल्ली हाई कोर्ट में ट्रांजिट अग्रिम जमानत याचिका दायर की है और प्रदीप की माने तो दिल्ली हाई कोर्ट में पेश की जाने वाली अग्रीम जमानत याचिका पर हस्ताक्षर करने के लिए हनीप्रीत दिल्ली स्थित उसके दफ्तर आई थी। प्रदीप का यह भी दावा है कि राम रहीम की कथित बेटी उसके लगातार संपर्क में है। प्रदीप के मुताबिक, मुझे लगता है कि हनीप्रीत ने इतना वक्त सोच-विचार में लगाया और उसके बाद मुझसे संपर्क साधा। जैसे ही उसने मुझसे बात की, मैंने अग्रिम जमानत की प्रक्रिया शुरू कर दी। हालांकि प्रदीप को अभी नहीं पता कि हनीप्रीत कहां है।

हनीप्रीत तनेजा के नाम से दायर इस याचिका पर मंगलवार को कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल की खंडपीठ के समक्ष सुनवाई हो सकती है। हनीप्रीत की याचिका अगर स्वीकार कर ली गई तो संभव है कि उसे कुछ दिनों के लिए गिरफ्तारी से छूट मिल जाए और फिर दिल्ली हाई कोर्ट मामले को पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के पास सुनवाई के लिए भेज दे।

और पढ़ें :
Gigolo Market Delhi

One thought on “जिसको ढूंढा गली-गली, वो हनीप्रीत यहां मिली… नेपाल नही यहां है बाबा की मुंहबोली बेटी

Leave a Reply

Your email address will not be published.