राजनीति

रेयान में फिर हुआ मासूम बच्चों की जिंदगी से खिलवाड़, इस बार जो हुआ वो खून खौला देने वाला है…

हरियाणा – रेयान इंटरनेशनल स्कूल वैसे तो देशभर में फैले आपने स्कूलों के जाल से हर साल करोड़ों का बिजनेस करता है, लेकिन बच्चों की सुरक्षा से खिलवाड़ करना इस स्कूल के लिए आम बात हो गई है। 8 सितंबर को गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशल स्कूल में हुए 7 साल के बच्चे की स्कूल के अंदर हुई हत्या ने पुलिस और प्रशासन कि लापरवाही को लेकर इधर रोज नए खुलासे हो रहे हैं। पुलिस ने इस मामले में स्कूल के बस कंडेक्टर को गिरफ्तार किया है, लेकिन इसी बीच आज स्कूल प्रशासन की एक और लापरवाही सामने आई है। Expired medicines found in ryan.

कैमरे में कैद हुई एक्सपायर्ड दवाइयां

हिन्दी न्यूज़ चैनल आज तक कि रिपोर्ट के मुताबिक, हाल ही में स्कूल से कुछ एक्सपायर्ड डेट की दवाइयां मिली हैं। आपको बता दें कि हर बड़े स्कूलों में प्राथमिक चिकित्सा किट उपलब्ध होते हैं जो किसी अपातकालीन स्थिति में इस्तेमाल किए जाते हैं। ऐसी ही सुविधा के लिए रेयान में भी उपलब्ध है। लेकिन रेयान में उपलब्ध ये सुविधा सिर्फ नाम के लिए है। चैनल की रिपोर्ट के मुताबिक मेडिकल रूम से कई ऐसी दवाइयों के पैकेट मिले हैं जो एक्सपायर हो चुकी हैं। इन दवाइयों में मामूली चोटों के लिए इस्तेमाल किये जाने वाली बीटाडाइन और सैवेलॉन जैसे कई एंटीसेप्टिक दवाइयां शामिल है।

सीसीटीवी तो लगे हैं पर काम नहीं करते

इसके अलावा, स्कूल की निगरानी करने के लिए जो सीसीटीवी कैमरे तो लगे हुए हैं, वो भी सिर्फ नाम के लिए ही हैं। स्कूल में जो भी सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं उनके तार खुले पड़े हैं। यानि इन सीसीटीवी को मॉनिटर करने वाला कोई नहीं है। अगर ये सीसीटीवी कैमरे सही काम करते तो आज शायद प्रद्युमन हमारे बीच जिंदा होता। क्योंकि कम से कम आरोपी ने सीसीटीवी कैमरे के डर से शायद ऐसा करने से पहले एक बार सोचा तो होता। इन सब बातों से स्कूल प्रशासन पर हज़ारों सवाल उठ रहे हैं।

गिरफ्तार हो सकते हैं स्कूल प्रशासन में शामिल लोग

इधर, प्रद्युमन हत्याकांड मामले में पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने बुधवार को स्कूल प्रबंधन के चेयरमैन, एमडी और सीईओ की अग्रिम जमानत खारिज कर दिया है। इसका मतलब है कि अब ये लोग कभी भी गिरफ्तार हो सकते हैं। ऐसा माना जा रहा है कि अग्रिम जमानत खारिज होने के बाद पुलिस एसआईटी ग्रुप के चेयरमैन एएफ पिंटो, एमडी ग्रेस पिंटो और सीईओ रायन पिंटो को जल्द गिरफ्तार कर सकती है। इस मामले में एसआईटी जांच में शामिल होने के लिए पुलिस दुबारा नोटिस भी भेज सकती है। हरियाणा की खट्टर सरकार की आदेश पर सीबीआई ने जांच शुरु कर दी है और इस मामले में केस भी दर्ज कर लिया है।

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button
Close