कहते हैं कि इंसान का कर्म ही उसका भाग्य सुनिश्चित करता है. वह अपने भाग्य का निर्माता खुद होता है. पर अच्छे कर्म और कड़ी मेहनत के बावजूद कुछ लोग अपना भाग्य बदल नहीं पाते. लेकिन कुछ लोगों की किस्मत बिल्कुल विपरीत होती है. कम मेहनत करने पर भी उन्हें अपनी किस्मत से ज़्यादा मिल जाता है. मां लक्ष्मी की कृपा हमेशा इन पर बनी रहती है. ऐसे लोगों के बारे में कहा जाता है कि ये ऊपर से ही अपनी किस्मत अच्छी लिखवाकर आते हैं. तो आईये जानते हैं कुछ ख़ास लक्षणों के बारे में जो बताते हैं कि इंसान अपनी अमीरी ऊपर से ही लिखवाकर आया है.

किस्मत में अमीरी के लक्षण

  • हथेली पर ध्वजा के निशान

अगर आपकी हथेली में ध्वजा का निशान बन रहा है तो इसका मतलब है जीवन में कभी ना कभी आप अमीर ज़रूर बनेंगे. ऐसे व्यक्ति साधारण परिवार में जन्म लेने के बावजूद इतना पैसा कमाते हैं कि इनका नाम अमीरों की सूची में आता है.

  • अंगूठे पर जौ के निशान

अंगूठे पर जौ जैसे निशान वाले व्यक्ति बहुत भाग्यशाली माने जाते हैं. ज्योतिषशास्त्र के मुताबिक ऐसे लोग अपनी कड़ी मेहनत से धनवान बनते हैं. अगर यही जौ वाला निशान हथेली पर बने तो उस व्यक्ति की संतान अच्छे गुणों वाली होती है और उनके बच्चों की वजह से ही वह बेशुमार दौलत और शौहरत कमाते हैं.

  • हथेली पर गहरी रेखाएं

हथेली पर हल्की रेखाओं का होना अशुभ माना जाता है. हल्की रेखाओं के होने का मतलब व्यक्ति को हमेशा कोई ना कोई रोग लगा रहेगा. लेकिन अगर आपकी हथेली पर गुलाबी रंग की गहरी रेखाएं हैं तो आप बहुत लकी हैं. जिस व्यक्ति की हाथ की रेखाएं एक दूसरे को काटती नहीं हैं उस व्यक्ति को हर काम में सफलता मिलती है. ऐसा व्यक्ति जीवन में बहुत नाम कमाता है.

  • उंगलियों की बनावट

लंबी और सीधी बनावट की उंगलियों वाला व्यक्ति किसी भी तरीके से अच्छा खासा धन कमा ही लेता है. सामुद्रिक शास्त्र के मुताबिक, ऐसे व्यक्ति किसी ना किसी तरह से धन-दौलत जुटा ही लेते हैं और इन्हें आर्थिक तौर पर संपन्न माना जाता है. उंगलियों की इस बनावट वाले लोग अच्छे व्यापारी भी होते हैं.

  • हथेली पर शुभ निशान

हथेली पर चक्र, तलवार, विष्णु चिन्ह, तोमर, त्रिशूल या धनुष निशान वाले व्यक्तियों को सरकारी नौकरी मिलती हैं. ऐसे लोग सरकारी नौकरी में उच्च पद पर कार्यरत होते हैं. इन्हें जीवन में धन-वैभव और संपत्ति की कभी कमी नहीं होती. जिनकी हथेली पर मंदिर और त्रिकोण के निशान होते हैं वह बहुत आध्यात्मिक होते हैं और इन्हें समाज में बहुत इज्ज़त मिलती है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.