All News, Breaking News, Trending News, Global News, Stories, Trending Posts at one place.

महिला कॉलेज में दिखी दबंगों की दबंगई, 32 दबंगों ने कॉलेज में घुसकर की छात्राओं से गन्दी हरकत

मोगा (पंजाब): उत्तर प्रदेश में बढ़ रही छेड़छाड़ की घटनाओं को रोकने के लिए प्रदेश में बीजेपी सरकार बनते ही सीएम योगी ने कड़ा कदम उठाते हुए एंटी रोमियो दल का गठन किया। इसका गठन महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखकर किया गया था। एंटी रोमियो दल के गठन के बाद कई आशिकों के ऊपर डंडा चल चुका है। लेकिन हर प्रदेश में महिला सुरक्षा को लेकर सरकार सजग नहीं है।

कई ऐसे प्रदेश हैं जहाँ महिलाओं के साथ जमकर छेड़छाड़ की घटना को अंजाम दिया जाता है। ऐसे में पुलिस में कुछ करनें में असमर्थ बैठी रहती है। हाल ही में पंजाब के मोगा जिले में एक ऐसी छेड़छाड़ की घटना सामने आयी है, जिसनें मानवता को बुरी तरह से शर्मसार किया है आप सोच भी नहीं सकते कि इस तरह की घटना आज के समय में भी घट रही है, जब कानून व्यवस्था का इतनी कड़ाई से पालन किया जा रहा है।

छेड़छाड़ के अलावा दी जान से मारनें की धमकी:

हाल ही में मोगा-लुधियाना जीटी रोड पर स्थित एम.एम.एम. पॉलिटेक्निक कॉलेज के प्रिंसिपल ने कॉलेज के ही कुछ दबंग छात्रों के खिलाफ कॉलेज की कुछ छात्रों के साथ छेड़छाड़ और कॉलेज स्टाफ को जान से मारनें की धमकी देने का आरोप लगाया है। प्रिंसिपल रवि कुमार ने पुलिस को दिए हुए अपने शिकायत पत्र में कहा है कि दिलजीत सिंह और कर्म सिंह अपने 30 अन्य साथियों के साथ कॉलेज के मुख्य गेट पर प्रधानगी का पोस्टर लगाकर प्रदर्शन कर रहे थे।

ताला तोड़कर गुस आये कॉलेज में और करने लगे छेड़छाड़:

उनको प्रदर्शन करता देख कॉलेज प्रशासन ने मुख्य गेट पर ताला लगा दिया, जिससे कॉलेज के छात्रों के बीच में किसी तरह का कोई झगड़ा ना हो पाए। लेकिन बाहर प्रदर्शन कर रहे लोग मुख्य गेट फांदकर अन्दर आये और गेट का ताला तोड़कर नारेबाजी के अलावा गाली-गलौच भी करने लगे। उन्हें रोकने का भी प्रयास किया गया लेकिन वह नहीं मानें और जबरदस्ती घुसकर कॉलेज की कुछ छात्राओं के साथ छेड़छाड़ और गलत व्यवहार करनें लगे। जब शिक्षकों ने उन्हें समझानें का प्रयास किया तो दबंग उन्हें जान से मारनें की धमकी भी देने लगे।

पुलिस ने घटना की जाँच के बाद दर्ज किया 30 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा:

दबंगों की वजह से कॉलेज में दहशत का माहौल बन गया और हमें पुलिस बुलानी पड़ी। इस घटना की जानकारी जैसे ही अजीतवाल थानें को मिली, सहायक थानेदार सुलक्खन सिंह अपने कुछ सिपाहियों के साथ कॉलेज पहुँचे। वहाँ जाकर उन्होंने जाँच की और कई छात्र-छात्राओं से घटना के बारे में पूछताछ की। कॉलेज के प्रिंसिपल रवि कुमार की शिकायत के बाद 30 अज्ञात लोगों के खिलाफ छेड़छाड़ और धमकी देने का मुकदमा दर्ज किया गया। अभी प्राप्त जानकारी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई थी।