समय रहते पहचाने कैंसर के लक्षण.. इस जानलेवा बीमारी के पहले शरीर आपको देता है ये संकेत

कैंसर वो खतरनाक बीमारी है जिसका नाम सुनकर ही रोगी के साथ उसके परिजन भी इसका भयावह अंजाम सोचकर डर जातें हैं..सामने मौत को देख लोगों के होश उड़ जाते हैं..पल पल मौत के करीब आने का डर लोगों को बाकी जिंदगी भी चैन से जीने नही देता है। हांलाकि अब कैंसर का सफल इलाज सम्भव हो चुका है बहुत सारे लोग इस खतरनाक बीमारी के गिरफ्त से बाहर आ रहे हैं लेकिन अक्सर लोगों यही सोचते हैं कि अगर इस रोग की गिरफ्त में जाने से पहले ही उसके बारे में पता चल जाए तो अच्छा होता ।

तो हम आपकों बता दें कि अब ये भी सम्भव हो चुका है … राष्ट्रीय कैंसर संस्थान की रिपोर्ट में बताया गया है कि साल 2016 में करीब 16 लाख 85 हजार 210 अमेरिकियों में कैंसर डायग्नोज किया गया था।यानि लक्षणों के आधार पर कैंसर को डायग्नोज किया जा सकता है। क्या हैं वो लक्षण जो आपकों मौत के मुंह में जाने का आगाह कर रहे हैं…कैसे पहचान सकते हैं आप कैंसर के होने के संकेत को ..ये हम बता रहे हैं आपको इस स्वास्थ्य विशेषांक में…… cancer-can-be-diagnosis-with-the-earlier-signs-in-body

अस्वभाविक रक्त स्राव

बिना किसी वजह के खून का बहना भी कैंसर का लक्षण हो सकता है। अगर कैंसर की संभावना है तो इसके कारण खून मलाशय के द्वारा बाहर निकलता है। य‍ह कोलेन कैंसर का लक्षण है। इसके साथ ही यदि मल-मूत्र त्यागने के समय अगर पीड़ा होती है या मूत्र में रक्त की मौजूदगी पाई जाती हो तो ये प्रोस्टेट कैंसर अथवा डिम्बग्रंथि कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। महिलाओं में अगर मासिक चक्र के बाद भी रक्त स्राव नहीं रुकता है, तो महिलाओं को ध्यान देने की जरूरत है।

आंत में समस्‍या

आंतों में सामान्‍य समस्‍या होना बड़ी बात नहीं, लेकिन अगर लगातार आंतों में समस्‍या है तो यह कोलेन या कोलोरेक्‍टल कैंसर का शुरुआती लक्षण हो सकता है। डायरिया और अपच की समस्‍या इस लक्षण को दर्शाते हैं। इसके कारण पेट में गैस और पेट में दर्द की समस्‍या भी हो सकती है।ऐसे में पेट में लगातार हो रहे दर्द को नजरअंदाज ना करें।

रात में पसीना निकलना

यदि रात में सोते वक्त पसीना अधिक निकलता है, तो यह किसी दवा के शरीर में रिएक्शन या शरीर के अंदर किसी इंफेक्शन का संकेत है। यदि यह स्थिति कई हफ्तों तक बनी हुई है और पसीना निकलना बंद नहीं हो रहा है, तो डॉक्टर से संपर्क जरूर करें क्योंकि ये कैंसर का भी संकेत हो सकता है।

बदन दर्द होना या कमजोरी लगना

क्या आप भी है परेशान कमर दर्द व जकड़न (‘कोल्डएलोडाइएनिया’) से तो अपनाए ये आसान उपाय !

काम की अधिकता और गलत तरीके से बैठने के कारण बदन में दर्द होना सामान्‍य है। मगर, लगातार पीठ में दर्द हो रहा हो, तो यह कोलोरेक्‍टल या प्रोस्‍टेट कैंसर का कारण हो सकता है। इसके अलावा कमर के आस-पास की मांसपेशियों में भी दर्द होता है। बिना वजह ही जरूरत से ज्यादा थकान लगती है, तो यह भी कैंसर का शुरुआती लक्षण हो सकता है।

वजन कम होना

अगर बिना किसी कारण के आपका वजन कम हो रहा है, तो कैंसर का शुरूआती लक्षण हो सकता है। भूख लगने में कमी होना, ज्यादा खाना नहीं खा पाना भी इसके लक्षण है। यदि बिना किसी प्रयास के शरीर का वजन चार-पांच किलो से ज्यादा कम हो जाए, तो इसे कैंसर के प्राथमिक लक्षण हो सकता है।

सीने में जलन और अपच

सीने में जलन और अपच दोनों अपेक्षाकृत आम समस्याएं हैं। खासतौर पर ज्यादा खाना खाने, मसालेदार खाना खाने से ऐसा होना आम है। मगर, जब ऐसा लगातार हो रहा है, तो ये लक्षण चिंता का कारण बन जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.