ब्रेकिंग न्यूज़

जेल में हनीप्रीत से मिलने के लिए तड़प रहा है बाबा राम रहीम, लेकीन हनीप्रीत छुपी है ऐसे ..

जेल के अंदर राम रहीम का जीना मुश्किल हो गया है। जिस दिन से वो जेल में आया है ऐसी ऐसी हरकतें कर रहा है जिसके बारे में आपने कभी सोच भी नहीं होगा। राम रहीम जेल के अंदर हनी प्रीत से मिलने के लिए बेकरार है वो हनीप्रीत का नाम लेकर रोता है। उसके गम में खाना भी कम खाता है। कुछ दिन पहले राम रहीम ने कहा था कि वो अपनी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत को साथ रखना चाहता है, उसकी पीठ में दर्द रहता है। हनीप्रीत उसकी फिजियोथेरेपिस्ट है। लेकिन जेल प्रशासन ने उसकी यह मांग ठुकरा दी थी।

जमानत पर बाहर आये एक कैदी ने किया खुलासा :

रोहतक की सुनारिया जेल में बंद गुरमीत राम रहीम अपनी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत से मिलने के लिए तड़प है। वह हनीप्रीत से मिलने के लिए कई बार जेल प्रशासन से गुहार लगा चुका है। हाल ही में जेल से जमानत पर बाहर आए सोमू पंडित नाम के एक व्यक्ति ने बताया कि उसे जेल के स्टाफ से पता चला कि राम रहीम हनीप्रीत से मिलना चाहता है। कई बार जेल अधिकारियों से मुलाकात कराने की कह चुका है, लेकिन अधिकारियों ने साफ इंकार किया हुआ है। गौरतलब है कि पिछले काफी दिनों से हनीप्रीत भी गायब है। वह कहां गई है इसका कोई सुराग नहीं मिल रहा है।

जेल सुरक्षाकर्मियों से घिरा रहता है बाबा :

बड़ा खुलासा : कोर्ट से फुर्र होने वाला था राम रहीम, लेकिन इस वजह से फेल हो गया प्लान

जेल के अंदर राम रहीम सुरक्षा कर्मियों के घेरे में रहता है। गुरमीत राम रहीम को जेल के अंदर पूरी सुरक्षा दी गई है। जेल से बाहर आए युवक ने बताया कि वह एक दिन कैंटीन में सामान खरीदने गया था। उसी समय वहां गुरमीत राम रहीम भी कैंटीन पर आ गया। उसने सफेद रंग के कपड़े पहने हुए थे। तथा उसको चारों तरफ से 20 से 25 जेल के सुरक्षाकर्मियों ने घेरा हुआ था। क्योंकि जेल प्रशासन को पता है कि जेल के हवालाती और बंदी राम रहीम से बहुत नाराज हैं। अगर उसे बिना सुरक्षा के छोड़ा गया तो कोई दिक्कत हो सकती है।

जेल में बना खाना ही खा रहा है :

जेल के अंदर राम रहीम को बाहर जैसे ठाठ-बाट नहीं मिल रहे। बल्कि उसे जेल में बना सादा खाना ही दिया जा रहा है। राम रहीम को लंगर में बना खाना ही खाना पड़ रहा है। हालांकि जेल की कैंटीन में फल, बिस्कुट, नमकीन, फ्रूट जूस, लड्डू, मट्ठी, समोसा, नूडल्स और खाने-पीने की कई चीजें मिलती हैं और कैंटीन में हर कैदी का अकाउंट खुलता है। इसके बाद इसी अकाउंट से कैदी खाने पीने की चीजें लेता है। राम रहीम को सोने के लिए एक गद्दा और चादर दी गई है तथा उसे एक नंबरदार भी दिया गया है। जेल में काम करने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि जिस दिन राम रहीम को जेल के अंदर लाया गया उस दिन वह काफी डरा हुआ था। उस दिन राम रहीम ने कहा कि मैं बाहर ही सोऊंगा, मुझे जेल के अंदर मत डालो।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close