दिलचस्प

पत्नी से तलाक लेकर मालामाल हुआ पति, एक साथ मिलेंगे 66 करोड़, हर साल बीवी देगी 61 लाख रुपए

शादी का बंधन बहुत ही पवित्र होता है। दो लोगों के बीच शादी का बंधन जीवनभर का साथ होता है। एक अच्छे रिलेशनशिप में लड़ाई-झगड़े होना काफी आम बात है। ऐसा कहा जाता है कि नाराजगी और लड़ाई-झगड़ों की वजह से रिश्तो में प्यार बरकरार रहता है। परंतु कई बार ऐसा होता है कि यह लड़ाई-झगड़े इतने अधिक बढ़ जाते हैं कि नौबत तलाक तक पहुंच जाती है।

जब कपल्स को यह लगने लगता है कि उन्होंने अपने पार्टनर के लिए सब कुछ कर दिया लेकिन फिर भी उनमें कोई बदलाव नहीं आया तो ऐसी स्थिति में लोग अपनी शादी को खत्म करने के बारे में सोचने लगते हैं। आमतौर पर देखा गया है कि तलाक में पति की तरफ से पत्नी को गुजारा भत्ता दिया जाता है।

लेकिन आज हम आपको लंदन से सामने आए एक ऐसे मामले के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसमें तलाक के बाद एक पति करोड़ों का मालिक बन गया। जी हां, पत्नी से तलाक लेने के बाद पति मालामाल हो गया।

पत्नी से तलाक लेकर पति बना करोड़पति

आपने अरबपतियों के तलाक के मामले जरूर सुने होंगे। किसी ने अपनी बीवी को अरबों रुपए दिए तो किसी ने करोड़ों रुपए दिए। एक समय दुनिया के सबसे अमीर रहे जेफ बेजोस ने जब पत्नी मैकेंजी से रिश्ता तोड़ा तो 38 अरब डॉलर यानी तकरीबन 2.6 लाख करोड़ रुपए दिए थे लेकिन आज हम आपको जिस तलाक के बारे में बताने वाले हैं वह इसके बिल्कुल उलट ही है। इसमें बीवी अपने पत‍ि को भारी भरकम रकम देने जा रही है।

दरअसल, हम आपको जिस मामले के बारे में बता रहे हैं यह मामला इंग्लैंड की राजधानी लंदन के एक बिजनेस घराने का है। लुईस बैकस्ट्रॉम और मार्टिन वेनबर्ग की शादी छह साल पहले हुई थी। लेकिन अब इन दोनों के बीच तलाक होने जा रहा है। जब यह मामला कोर्ट में पहुंचा तो मार्टिन वेनबर्ग ने कहा कि उन्हें 4 अरब रुपए चाहिए।

इसके लिए उन्होंने कोर्ट में जज के सामने तमाम तरह की दलीले और तर्क दिए। पत्नी की कंपनी में काम करने की दलीलों का भी हवाला दिया। लेकिन जब अदालत ने उनकी मांग ठुकरा दी तो फ‍िर उच्च न्यायालय के के जज ने कहा कि शादी के पूर्व की शर्तों के हिसाब से ही पैसा देना होगा।

अब 66 करोड़ का पैकेज, हर साल 61 लाख रुपए

अदालत ने लुईस बैकस्ट्रॉम को आदेश दिया कि वह अलग रह रहे अपने पति को 6.5 मिलियन पाउंड यानी करीब 66 करोड़ रुपए का पैकेज दें। इसके साथ ही उनके रोजाना के खर्च के लिए 60,000 पाउंड यानी तकरीबन 61 लाख रुपए हर साल उन्हें देती रहें। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो जब शादी हुई तो लुईस बैकस्ट्रॉम बिल्टिमा फाउंडेशन की चेयरमैन थीं, इसी के साथ बिर्गमा होल्डिंग्स (हांगकांग) लिमिटेड में भी उनके शेयर थे। यह दोनों कंपनियां उनके दादा ने शुरू की थी।

मौजूदा समय में लुईस बैकस्ट्रॉम के पास लगभग 25 अरब रुपए की संपत्ति है। जबकि मार्टिन वेनबर्ग की संपत्ति सिर्फ 2 करोड़ रुपए थी। फिलहाल, यह तलाक इस वक्त काफी चर्चा का विषय बना हुआ है। जो भी इस मामले के बारे में सुन रहा है वह हैरान हो जा रहा है।

Back to top button
?>