बॉलीवुड

तुनिशा के सुसाइड को कंगना ने माना मर्डर, PM से कहा- जैसे कृष्ण द्रौपदी के लिए उठे वैसे ही आप भी

छोटे पर्दे की अभिनेत्री तुनिशा शर्मा (Tunisha Sharma) की मौत ने न केवल टीवी और बॉलीवुड इंडस्ट्री बल्कि देशभर को हिलाकर रख दिया था. हाल ही में शनिवार, 24 दिसंबर को तुनिशा शर्मा ने अपने टीवी शो ‘अली बाबा’ के सेट पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी.

तुनिशा अपने शो के सह कलाकार शीजान मोहम्मद संग रिश्ते में थी. दोनों का अफेयर चल रहा था. माना जा रहा है कि शीजान मोहम्मद ने तुनिशा को आत्महत्या के लिए उकसाया था. खबरें सामने आ रही है कि शीजान के बाहर भी कई महिलाओं से संबंध थे. तुनिशा ने तनाव और अवसाद में यह ख़ौफ़नाम कदम उठा लिया. फिलहाल शीजान पुलिस हिरासत में है.

इस मामले पर कई सलेब्स ने अपनी राय रखी है. तुनिशा की मौत पर कई सेलेब्स ने बयान दिए है. वहीं अब इस मामले पर हिंदी सिनेमा की बेबाक अभिनेत्री कंगना रनौत का भी बयान सामने आ गया है. उन्होंने 20 वर्षीय दिवंगत टीवी अभिनेत्री तुनिशा शर्मा की मौत पर दुःख जताया है. साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि ‘बहुविवाह’ और ‘एसिड अटैक’ के खिलाफ महिलाओं की सुरक्षा के लिए कड़े कानून बनाए जाने चाहिए.

हाल ही में अपने सोशल मीडिया एकाउंट से कंगना ने तुनिशा को लेकर एक पोस्ट की है. अभिनेत्री ने पोस्ट में लिखा है कि, ”एक महिला सब कुछ सह सकती है, प्यार, शादी, रिश्ते या यहां तक कि किसी प्रियजन की कमी भी, लेकिन वह इस तथ्य से कभी नहीं निपट सकती कि उसकी लव स्टोरी में कभी भी दूसरे व्यक्ति के लिए प्यार नहीं था”.

kangana ranaut

बॉलीवुड अदाकारा ने आगे लिखा कि, ”किसी दूसरे व्यक्ति के लिए उसका प्यार और कमजोरी बस उसका शोषण करने के लिए एक आसान सा तरीका होता है. उसकी वास्तविकता पहले जैसी नहीं रहती, क्योंकि दूसरा व्यक्ति उस रिश्ते में रहकर उसे शारीरिक और मानसिक तौर पर परेशान करता रहता है. जब उसको सच्चाई पता चलती है, तब तक उसकी वास्तविकता खुद आकार बदलना शुरू हो चुकी होती है, क्योंकि उसके सामने चीजें बहुत शॉकिंग तरीके से पेश होती हैं”.

Tunisha Sharma and kangana ranaut

उन्होंने आगे लिखा कि, ”वह हर धारणा को प्यार और खूबसूरती के साथ जोड़ती है. उसके दिमाग में फिर से सारी चीजें चलने लगती हैं. वह अपने परसेप्शन पर भरोसा नहीं कर सकती है और ऐसी स्थिति में किसी को जीने या मरे होने में कोई अंतर महसूस नहीं होता है, ऐसे में जब वह अपनी जिंदगी को खत्म करने का फैसला करती है, तो वह इसके लिए अकेली जिम्मेदारी नहीं है, यह हत्या है.

कई महिलाओं के साथ उनकी सहमति या नॉलेज के बिना बहुविवाह में लिप्त होना एक आपराधिक अपराध होना चाहिए. महिलाओं के शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक भलाई की कोई जिम्मेदारी लिए बिना उनका यौन शोषण करना और बिना किसी वैध कारण के अचानक उनसे संबंध तोड़ लेना भी एक आपराधिक मामला होना चाहिए”.

वहीं एक इंस्टा स्टोरी में कंगना रनौत ने लिखा कि, ”हमें अपनी बेटियों की देखभाल करने की जरूरत है. यह सरकार की जिम्मेदारी है कि वह नारी की रक्षा और उसे समृद्ध बनाए. जिस भूमि पर महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं, उसका विनाश होना तय है. मैं माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अनुरोध करती हूं कि जैसे कृष्ण द्रौपदी के लिए उठे, जैसे राम ने सीता के लिए स्टैंड लिया, हम आपसे अपेक्षा करते हैं कि आप बहुविवाह, महिलाओं के खिलाफ एसिड हमले और महिलाओं के टुकड़े किए जाने वाले अनुपराधियों के लिए ऐसा कानून बने कि उन्हें बिना किसी मुकदमें के मौत की सजा सुनाई जानी चाहिए”.

Back to top button