जानिये क्यों जेल में चिल्लाने लगा बाबा राम रहीम, कहने लगा, “मैंने क्या किया है, मेरा क्या कसूर है?”

इन दिनों बलात्कारी बाबा राम रहीम रोहतक की जेल में अपने पापों की सजा भुगत रहा है। लेकिन काफी सालों तक ऐशो-आराम की जिंदगी जीने वाले बाबा राम रहीम को अचानक जेल रास नहीं आ रही। उसे जेल के अंदर घुटन महसूस हो रही है। यहीं कारण है कि अब वह जेल में जोर जोर से चिल्ला रहा है। करोड़ों भक्तों को प्रवचन देने वाला बाबा राम रहीम आज बिल्कुल असहाय हो गया है। जेल के अंदर उसकी चीखें सुनने वाला कोई नही है। जिस दिन से राम रहीम को जेल के अंदर लाया गया है तब से वह हताश और निराश है। वह दुखी होकर सिर तक ऊपर नहीं उठा पा रहा है।

जेल में चिल्लाता रहा राम रहीम :

कभी मखमली बिस्तरों पर सोने वाला डेरा प्रमुख राम रहीम आज एक चटाई और दो कंबल के सहारे अपने दिन काट रहा है। राम रहिम ने बेहद घिनौना अपराध किया है जिसके लिए कोर्ट ने उसे बीस साल की सजा सुनाई है। पता चला है की राम रहीम जेल के बैरक में न तो वो कुछ खा रहा है न ही किसी से बात कर रहा है। राम रहीम जेल में रोते-बिलखते चिल्ला-चिल्ला कर पुकार रहा है कि ‘मैं कि कित्ता ए, साड्डा कि कसूर ए…’ उसकी चीखें सुनकर और उसे रोते-बिलखते देख जेल के कई कैदी भी हक्के-बक्के रह गए। जिस दिन राम रहीम जेल में गया था उस दिन वह जमीन पर ही बैठा रहा। राम रहीम के साथ जेल में बंद एक कैदी ने बाहर आकर अंदर की पूरी सच्चाई बताई है। स्वदेश किराड नाम के उस कैदी ने बताया है कि राम रहीम जेल के अंदर कैसे रह रहा है। जेल में राम रहीम ने कहा, ‘हे रब्बा कि कित्ता मेरे नाल’। राम रहीम रोता रहा और रात को अपने आप से बातें करता रहा।

राम रहीम को आम कैदियों जितनी ही मिलेंगी सुविधाएं :

जेल में राम रहीम को कोई खास सुविधाएं नहीं दी गई हैं। वहां वह आम कैदी की तरह रह रहा है। किराड के मुताबिक, उसको एसी, गद्दे नहीं दिए गए। उसको जेल की तरफ से दो काले कंबल, एक चटाई दी गई है। जेल के कैदी भी अब राम रहीम पर गुस्सा हैं। क्योंकि उसके कारण दूसरे कैदियों की जेल के भीतर मिलने वाली ‘आजादी’ भी छिन गई है। सामान्य दिनों में कैदी जहां दिन के समय खुली हवा में हरे-भरे वातावरण के बीच सुविधानुसार खेल एवं अन्य मनोरंजन गतिविधियां कर लेते थे, लेकिन राम रहीम के आने से सुरक्षा के मद्देनजर तमाम चीजों पर पाबंदियां लग गई। इसलिए किसी भी कैदी को राम रहीम के पास भी नहीं जाने दिया जा रहा।

कोर्ट ने सुनाई है बीस साल की सजा :

डेरासच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह यौन शोषण मामले में दोषी करार दिये गए हैं। पंचकूला की विशेष सीबीआई कोर्ट ने उन्हें दोषी करार दे दिया है। एक खत में एक लड़की ने सिरसा डेरा सच्चा सौदा में गुरु राम रहीम के हाथों अपने यौन शोषण का वाकया बताया था। जिसमें दोषी पाए जाने पर उन्हें 20 साल की सजा दी गई है। हमेशा लाखों लोगों से घिरे रहने वाले डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम, अब जेल मे दिनभर लोगों का इंतजार करते रहता है। लेकिन उसे जेल में मिलने कोई भी नहीं आया है। राम रहीम ने पांच लोगों के नाम और तीन के मोबाइल नंबर जेल प्रशासन को दिए हैं, जिनसे वह मुलाकात करना और बात करना चाहता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.