बॉलीवुड

जब देव आनंद ने अपने हमशक्ल को मिलने बुलाया, कहा- मुझे आपको कॉपी करना पड़ेगा, पढ़े मजेदार किस्सा

देव आनंद हिंदी सिनेमा के दिग्गज कलाकारों में गिने जाते हैं. उनके हर एक अंदाज पर फैंस दिल हार जाते थे. उनकी अदाकारी हो, उनके कपड़े पहनने का स्टाइल हो या उनका गर्दन झुकाने का अंदाज सभी पर फैंस जान छिड़कते थे. देव आनंद ने बॉलीवुड में एक बड़ा और ख़ास मुकाम हासिल किया था.

dev anand

देव आनंद का नाम हिंदी सिनेमा में आज भी बड़े सम्मान के साथ लिया जाता है. आज वे चाहे हमारे बीच मौजूद नहीं है लेकिन उनकी अदाकारी को हमेशा याद किया जाता रहेगा. वहीं उनसे जुड़े कई किस्से भी है. आज हम आपको देव साहब और उनके हमशक्ल अभिनेता का एक किस्सा बताने जा रहे हैं.

dev anand

बता दें कि अभिनेता किशोर भानुशाली देव साहब के हमशक्ल है. हूबहू वे देव साहब की तरह दिखते है. उनकी कद काठी और उनका चेहरा देव साहब की तरह ही है. वे बॉलीवुड की कई फिल्मों में नजर आ चुके हैं. एक समय तो ऐसा था जब देव साहब से ज्यादा फ़िल्में किशोर भानुशाली के पास हुआ करती थी.

dev anand and kishore bhanushali

किशोर भानुशाली को हिंदी सिनेमा में कई फिल्मों में देखा गया. हालांकि उनकी पहचान देव साहब के डुप्लीकेट के रुप में ही रही. फिल्मों में वे देव साहब वाले अंदाज में ही नजर आते थे. आपको यह जानकारी आश्चर्य होगा कि एक बार खुद देव साहब ने किशोर को मिलने के लिए बुलाया था.

dev anand and kishore bhanushali

राजेश खन्ना के फैन रहे किशोर भानुशाली

किशोर का जन्म 13 मार्च 1962 को उत्तर प्रदेश में हुआए था. 60 साल के हो चुके किशोर बचपन से ही हिंदी सिनेमा के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना के फैन थे. अपने एक साक्षात्कार में उन्होंने बताया था कि, ”जब फिल्म ‘कटी पतंग’ रिलीज हुई थी तब मैं पांच-छह साल का रहा होऊंगा. तब काकाजी यानी राजेश खन्ना जी का जमाना था. उस वक्त किसी ने मुझे कहा कि तुम्हारी शक्ल बिल्कुल देवानंद जी जैसी है. मैं जानता नहीं था कि देवानंद कौन हैं”.

dev anand and kishore bhanushali

‘दिल’ हुई रिलीज, किशोर को देव साहब ने मिलने बुलाया

किशोर भानुशाली को फिल्म ‘दिल’ से लोकप्रियता मिली थी. इस फिल्म में माधुरी दीक्षित, अनुपम खेर और आमिर खान ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. फिल्म सफल रही थी और यह फिल्म देव साहब ने भी देखी थी. फिल्म देखने के बाद उन्होंने किशोर को मिलने के लिए बुलाया था.

dev anand and kishore bhanushali

किशोर ने अपने साक्षात्कार में बताया था कि, ‘दिल’ रिलीज होने के बाद जब देव आनंद साहब ने मुझे मिलने के लिए बुलाया तो मैं उनसे मिलने उनके ऑफिस गया था. जब मैं पहुंचा तो मुझे देखते ही देव आनंद साहब ने अपने स्टाइल में कहा- क्यों किशोर ना है न? दिल देखी है मैंने और मुझे लगता है कि आपको ही कॉपी करना पड़ेगा अब कितनी फिल्में हैं तुम्हारे पास ? आगे उन्होंने कहा था कि, मैंने देव आनंद साहब से कहा कि मेरे पास आठ से दस फिल्में होंगी तो मजाकिया अंदाज में देव साहब ने कहा मुझे कुछ फिल्में दिलवाओ.

Back to top button