बॉलीवुड

इस गंदी लत की शिकार है करिश्मा कपूर की बेटी, मासी करीना ने जताई चिंता, बहन को दी ऐसी सलाह

करीना और करिश्मा, कपूर खानदान की लाड़ली बेटियां हैं। इन दोनों ने बॉलीवुड में बहुत नाम कमाया है। दोनों की शादी भी हो चुकी है। करीना ने साल 2012 में सैफ अली खान से शादी की थी। इस शादी से उन्हें दो बच्चे तैमूर और जेह हैं। वहीं करिश्मा ने 2003 में संजय कपूर से शादी की थी। हालांकि 2016 में दोनों का तलाक हो गया। इस शादी से करिश्मा के दो बच्चे समायरा और कियान हैं।

करीना को नहीं पसंद भांजी की ये गंदी आदत

करिश्मा की बड़ी बेटी समायरा कपूर (Samaira Kapoor) अक्सर सोशल मीडिया पर छाई रहती है। वह अभी 17 साल की हैं। उनकी अपनी मौसी करीना से बहुत बनती है। करीना भी अपनी भांजी समायरा को खूब पसंद करती है। दोनों को कई बार एकसाथ पब्लिक में और सोशल मीडिया पर देखा गया है। ये दोनों फैमिली ट्रिप पर भी अक्सर साथ रहते हैं।

वैसे तो करीना को समायरा बहुत पसंद है। लेकिन उन्हें करिश्मा की बेटी की एक चीज बेकार लगती है। वह समायरा की एक गंदी आदत को बिल्कुल पसंद नहीं करती है। इस बारे में उन्होंने अपनी बहन करिश्मा से बात भी की है। साथ ही समायर की इस बेकार आदत को सुधारने का सजेशन भी दिया है। समायरा में जो गंदी आदत है, वह आपके बच्चों में भी जरूर होगी। इसलिए करीना की सलाह को आप भी ध्यान से पढ़िएगा।

करिश्मा को दी बेटी को सुधारने की टिप्स

दरअसल समायरा को हमेशा फोन से चिपके रहने की लत है। वह अधिकतर समय अपने मोबाइल पर सोशल मीडिया और अन्य ऐप चलाती रहती हैं। उनका पूरा दिन फोन में ही चला जाता है। बस करीना को यही आदत पसंद नहीं है। उन्होंने इस बारे में करिश्मा से कहा कि समायरा सारा दिन फोन से चिपकी रहती है। और कोई काम नहीं करती है। ऐसे में वह एक दिन सबको भूल जाएगी। दुनिया से कट जाएगी। उसकी दुनिया सिर्फ फोन तक ही सीमित रह जाएगी।

करीना ने करिश्मा को सलाह दी कि वह बेटी को किताब पढ़ने को कहे। अपने परिवार और दोस्तों से मिलने को कहे। सभी के साथ समय बिताने को कहे। वरना वह जैसे-जैसे बड़ी होती जाएगी लोगों से मिलना जुलना कम करती जाएगी। बस फोन में ही लगी रहेगी। करीना की इस सलाह को करिश्मा ने अच्छे से सुना और वादा किया कि वह इस पर काम करेंगी।

वैसे करीना की सलाह और भी कई पेरेंट्स के काम आ सकती है। समायरा जैसे और भी कई बच्चे हैं जो सारा दिन अपने फोन में घुसे रहते हैं। उनके माता पिता को भी उन्हें दूसरों से मिलने जुलने और फोन से बाहर की दुनिया में घुलने मिलने की सलाह देनी चाहिए।

Back to top button