जिस भूटान के लिए चीन से भिड़ा था भारत, उसी भूटान ने डोकलाम विवाद खत्म होते ही ये क्या कह दिया?

नई दिल्ली – डोकलाम मुद्दे पर भारत भूटान का पक्ष लेते हुए चीन से भिड़ा था। यह विवाद 2 महीनों तक चला और अब जैसे भारत और चीन ने विवाद को खत्म करते हुए अपनी-अपनी सेनाओं को पीछे हटाया लिया वैसे ही भूटान ने एक ऐसा ट्वीट किया है जो भूटान के मंसूबों पर सवाल उठाता है। इस ट्वीट को लेकर भारत सरकार को निराश हो सकती है। Bhutan reaction on doklam matter.

 

भूटान ने डोकलाम विवाद खत्म होने का किया स्वागत

Bhutan reaction on doklam matter

डोकलाम मुद्दे पर भारत और चीन के बीच हुए समझौते का भूटान ने स्वागत करते हुए इलाके में शांति सुनिश्चित होने की उम्मीद जताई है। भूटान की तरफ से जारी बयान में कहा गया है, ‘हमें उम्मीद है कि आगे समझौतों के अनुसार भूटान, चीन और भारत की सीमाओं पर शांति रहेगी’

आपको बता दें कि सोमवार को चीन और भारत ने डोकलाम में 73 दिनों चले आ रहे विवाद को खत्म करते हुए अपनी-अपनी सेनाओं को इस इलाके वापस बुलाने का ऐलान किया था। इसे भारत कि कूटनीतिक जीत माना जा रहा है। लेकिन भूटान ने जो ट्वीट किया है वो कहीं न कहीं भूटान कि मंशा पर सवाल उठाता है।

 

क्या था डोकलाम विवाद?

Bhutan reaction on doklam matter

भारत और चीन के बीच ये विवाद 16 जून को उस वक्त शुरू हुआ था, जब भारतीय सैनिकों ने डोकलाम में चीनी सैनिकों को सड़क बनाने से रोक दिया था। इसपर चीन ने कहा था कि वह अपने इलाके में सड़क बना रहा है। चीन डोकलाम को अपने डोंगलांग रीजन का हिस्सा बताता है। चीन के सड़क बनाने से भारत की सुरक्षा को गंभीर खतरा है।

इस रोड लिंक से चीन को भारत पर एक बड़ी सैन्य सुविधा हासिल होगी। इसलिए भारत इसका विरोध कर रहा था। हालांकि, सोमवार को चीन और भारत ने डोकलाम में 73 दिनों चले आ रहे विवाद को खत्म करते हुए अपनी-अपनी सेनाओं को इस इलाके वापस बुलाने का ऐलान किया है। और अब दोनों देशों कि सेनाओं को धीरे-धीरे करके यहां से हटाया जा रहा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.