राजनीति

पढ़ें कैसे मोदी सरकार की ये नयी रेल आपको दिल्ली से मुंबई पहुंचाएगी महज 12 घंटों में

जहां बाकी पार्टियां बयानबाजी में व्यस्त नज़र आती हैं वहीं मोदी सरकार अपने विकास कार्यों में पूरे ज़ोर से लगी हुई दिखाई दे रही है । हर वर्ष 10 करोड़ से ज़्यादा भारतीय रेल से सफर करते हैं , रेल भारत का एक अभिन्न हिस्सा । स्पेन की हाईस्पीड ट्रेन टैल्गो अपने तीसरे ट्रायल के लिए मंगलवार को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से मुंबई सेंट्रल के लिए रवाना हुई। 130 किलोमीटर प्रति घंटे के अधिकतम रफ्तार से चलती हुई यह ट्रेन बुधवार सुबह दस बजे अपने गंतव्य पर पहुंचेगी। यदि यह ट्रायल रन सफल रहता है तो अगला ट्रायल 150 किलोमीटर प्रति घंटे के अधिकतम रफ्तार से किया जाएगा।

बरेली-मुरादाबाद और पलवल-मथुरा के बीच ट्रायल रन सफल रहने के बाद मंगलवार शाम 7.55 बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर दो से टैल्गो ट्रेन अनुसंधान अभिकल्प और मानक संगठन (आरडीएसओ) और टैल्गो के अधिकारियों को लेकर तीसरे ट्रायल रन के लिए रवाना हुई। 130 किलोमीटर की अधिकतम रफ्तार से चलते हुए यह ट्रेन 1384 किलोमीटर की दूरी 14.05 घंटे में तय करेगी। वहीं मुंबई राजधानी को यह दूरी तय करने में 15.50 घंटे का समय लगता है।

 

बरेली-मुरादाबाद रूट पर 0-80 किलोमीटर की रफ्तार से तथा पलवल-मथुरा रूट पर 80-180 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से इसका ट्रायल हुआ था। पलवल-मथुरा रूट पर ट्रायल रन के लिए स्पेन से मेजरिग व्हील मंगाया गया था। इसे ट्रेन के कोच में लगाकर स्पीड का माप किया जाता है।

रेलवे अधिकारी ने बताया कि मेजरिग व्हील फोर्स (दबाव) नापने के लिए भी किया जाता है। ट्रैक पर ट्रेन के चलने के दौरान झटका कम लगना चाहिए। स्पेन की कंपनी का दावा है कि इस ट्रेन को भारत की पटरियों पर बिना किसी बदलाव के 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलाया जा सकता है।

अधिक जानें अगले पेज पर :

1 2Next page

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close