समाचार

टीचर ने मां के सामने बेटी के उतरवा दिए कपड़े, पूरी क्लास ने देखा, अंडरवियर में जाना पड़ा घर

मिजोरम के लुंगलेई जिले में एक बड़ा ही शर्मनाक वाक्या सामने आया है। यहां एक टीचर ने 6 साल की छात्रा के उसकी मां और साथी छात्रों के सामने सारे कपड़े उतरवा दिए। फिर उसे अंडरवियर में ही घर भेजा। आरोपी शिक्षिका का नाम लालबियाकेंगी बताया जा रहा है। हालांकि बाल संरक्षण इकाई की शिकायत के बाद उसे बीते शनिवार (27 अगस्त) गिरफ्तार कर लिया गया।

यह पूरा मामला दक्षिण मिजोरम के लुंगलेई जिले के थांगपुई गांव के एक सरकारी स्कूल का है। इस घटना के बाद स्कूल शिक्षा विभाग ने लालबियाकेंगी नामक इस शिक्षिका को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया। अब इसे मामले में राज्य के शीर्ष छात्र निकाय मिजो जिरलाई पावल (एमजेडपी) की मांग है कि आरोपी शिक्षिका को बर्खास्त किया जाए।

टीचर ने उतरवाए छात्रा के कपड़े

यह शर्मनाक घटना 25 अगस्त की बताई जा रही है। थांगपुई गांव में स्थित एक सरकारी प्राथमिक विद्यालय में नैंसी लालनुनसंगी की 6 साल की बेटी पहली कक्षा में पढ़ती है। नैंसी ने बताया कि 22 अगस्त को स्कूल में पढ़ने वाले एक लड़के ने उसकी पिटाई की थी। उसे बाद में उल्टी की और पेट दर्द हुआ। लेकिन बेटी स्कूल युनिफॉर्म को लेकर बहुत उत्साहित थी। इसलिए वह अगले दिन फिर से स्कूल गई। लेकिन उसी लड़के ने उसे फिर से पीटा।

नैंसी ने बताया कि जब उसकी बेटी की फिर से पिटाई हुई तो वह बड़ी आराज हो गई। वह उसे लड़के को डांट लगाने स्कूल गई। हालांकि बाद में स्कूल टीचर ने उन्हें फोन पर डांटा और कहा कि आप ने स्कूल नियमों का उल्लंघन किया। बिना अनुमति के स्कूल में गई और बच्चे को डांटा। शिक्षिका ने एक व्हाट्सएप ग्रुप में उनकी शिकायत भी की।

टीचर के खिलाफ जारी हुआ कारण बताओ नोटिस

इस बात से नाराज नैंसी 25 अगस्त को फिर से स्कूल गई। लेकिन टीचर ने बीच में दाखल दिया और कहा कि यदि तुम अपने बच्चे को घर ले जा रही हो तो उसकी यूनिफॉर्म यहीं छोड़ दो। यहां एक और छात्र है जिसे इसकी जरूरत है। फिर टीचर ने पूरी क्लास के सामने बेटी की यूनिफॉर्म उतार दी और उसे अंडरवियर में घर भेजा।

इस घटना के सामने आने के बाद मिजोरम के स्कूली शिक्षा मंत्री लालछंदामा ने बताया कि ये घटना बेहद दुखद है। आरोपी टीचर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। वह सोमवार को शिक्षा अधिकारी के सामने पेश होंगी।

Back to top button
?>