अध्यात्म

Chankya Niti: घर तहस नहस कर देती है ऐसी महिलाएं, ऐसे करें इनकी पहचान

आचार्य चाणक्य अपने समय के महान विद्वान थे। उन्हें कूटनीति और राजनीति का अच्छा खासा ज्ञान था। इसके साथ ही उन्होंने लाइफ मैनेजमेंट और रिश्ते नातों को लेकर भी कई बातें कही थी। उनके नीतिशास्त्र में महिलाओं से जुड़े गुणों और अवगुणों का जिक्र भी पढ़ने को मिलता है। आज हम ऐसी महिलाओं के बारे में जानेंगे जो अपने परिवार की बर्बादी का कारण बनती है।

लंबी गर्दन वाली महिलाएं

चाणक्य नीति की माने तो जिन महिलाओं की गर्दन चार उंगलियों से ज्यादा लंबी होती है वह बड़ी चालाक होती हैं। इनका दिमाग शातिर होता है। ये महिलाएं अक्सर अपने घर की बर्बादी की वजह बनती है। इसके विपरित छोटी गर्दन वाली महिलाएं शांत स्वभाव की होती है। ये दूसरों पर निर्भर रहती हैं। इनसे घर की तरक्की होती है।

चपटी हथेली वाली महिलाएं

चपटी हथेली वाली महिलाएं भाग्य के मामले में कमजोर होती हैं। इन्हें जीवन में सुख कम और दुख अधिक मिलते हैं। ये जीवन में धन की कमी का सामना भी करती हैं। पैसों के मामले में इनकी किस्मत हमेशा खराब रहती है। ये अपने आसपास मौजूद लोगों का लक भी खराब कर देती हैं।

पीली आंखों वाली महिलाएं

जिन महिलाओं की आंखें पीली रहती है वह अक्सर बीमार रहती हैं। उनकी बीमारी में बहुत खर्चा भी होता है। ये परिवार का बैंक बैलेंस खाली कर देती हैं। वहीं स्लेटी रंग की आंखों वाली महिलाएं घर परिवार के लिए बेस्ट मानी जाती हैं। इनसे घर में खुशियां आती है।

कान पर अधिक बाल वाली महिलाएं

जिन महिलाओं के कान पर अधिक बाल रहते हैं वह हमेशा दुख का कारण बनती है। इनकी वजह से परिवार में सुख की कमी आ जाती है। ये घर में एक के बाद एक कई दुख लाती हैं। इनसे घर में दरिद्रता भी आती है।

चौड़े दांत वाली महिलाएं

चाणक्य नीति की माने तो चौड़े दांत वाली महिलाओं का जीवन भी दुखों के साथ बीतता है। इनके ऊपर दुख के बादल हमेशा छाए रहते हैं। ये बहुत कम ही सुखी रह पाती हैं। इस कारण ये गुस्सैल और चिड़चिड़ी भी हो जाती है। ये घर परिवार के रिश्ते बिगाड़ती हैं।

अंगूठे से लंबी उंगली वाली महिलाएं

जिन महिलाओं के पैर की उंगलियां उनके अंगूठे की उंगलियों से अधिक लंबी होती हैं वह भी घर परिवार के लिए अनलकी मानी जाती हैं। ऐसी महिलाएं गुस्सैल स्वभाव की होती हैं। ये अपने गुस्से पर कंट्रोल नही रख पाती हैं। इनका गुस्सा परिवार को बर्बाद कर के रख देता है। इनका अपनी वाणी पर भी कोई संयम नहीं रहता है।

Back to top button
?>