बॉलीवुड

बॉलीवुड में दौड़ी शौक की लहर, नहीं रही ये फेमस सेलिब्रिटी, सलमान खान से था खास रिश्ता

बॉलीवुड के गलियारों से एक दुखद खबर आ रही है। फिल्म इंडस्ट्री के जाने माने फिल्ममेकर और डायरेक्टर सावन कुमार टाक (Sawan Kumar Tak) अब इस दुनिया में नहीं रहे। उनका गुरुवार, 25 अगस्त शाम सवा 4 बजे निधन हो गया। वे बीते कुछ समय से बीमार थे। उन्हें दिल की समस्या थी।

नहीं रहे डायरेक्टर सावन कुमार टाक

बुधवार 24 अगस्त को उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। ऐसे में परिवार ने उन्हें मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल एडमिट किया था। लेकिन यहां उनके फेफड़ों में संक्रमण फैल गया। सावन कुमार के भतीजे ने मीडिया को बताया कि उनका हार्ट भी फैल हो गया था। उनके दिल ने संक्रमण के चलते काम करना बंद कर दिया था। बता दें कि सावन कुमार 86 साल के थे। उन्होंने कभी शादी नहीं की। उनके परिवार में 3 बहनें और एक भाई हैं।

इन फिल्मों का किया निर्देशन

सावन कुमार ने अपने फिल्मी करियर में 19 से अधिक फिल्मों को डायरेक्ट किया। इसमें सलमान खान के साथ सनम बेवफा, सावन -द लव सीजन भी शामिल है। इसके अलावा उन्होंने चांद का टुकड़ा, सौतन, साजन बिना सुहागन जैसी फिल्में भी उन्होंने डायरेक्ट की।

उन्होंने अपने करियर की शुरुआत साल 1972 में ‘गोमती के किनारे’ फिल्म में बतौर निर्देशक की थी। वे एक लिरिसिस्ट भी थे। उन्होंने ‘कहो न प्यार है’ फिल्म के फेमस गाने प्यार की कश्ती में, जानेमन जानेमन, और चांद सितारे इत्यादि के बोल लिखे थे।

सलमान खान ने जताया शौक

सावन कुमार के निधन से फिल्म इंडस्ट्री में मातम पसरा हुआ है। हर कोई उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना कर रहा है। बॉलीवुड के दबंग खान सलमान ने भी सावन कुमार के निधन पर शौक व्यक्त किया है। वे उनके साथ सनम बेवफा सहित कुछ और फिल्मों में काम कर चुके हैं।

सलमान ने अपने आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट पर सावन कुमार और अपनी एक थ्रोबैक तस्वीर साझा की। इस तस्वीर के साथ उन्होंने कैप्शन में लिखा “मेरे प्यारी सावन जी भगवान आपकी आत्मा को शांति दें। आप हमेशा मेरे दिल में रहे। मैं आपकी बहुत इज्जत करता हूं।”

इसके अलावा होस्ट और फिल्म ट्रेड एनलिस्ट कोमल नहाटा ने भी सावन कुमार के निधन पर शौक जताया। उन्होंने ट्वीट कर लिखा- यह जानकार दुख हुआ कि दिग्गज लेखक, निर्माता, निर्देशक और लिरिसिस्ट सावन कुमार टाक अब नहीं रहे। उन्होंने कुछ समय पहले ही अंतिम सांस ली। मेरा पिताजी और वे आपस में अच्छे दोस्त थे।

Back to top button
?>