पक्षियों को डालते हैं दाना? तो न करें ये गलती, वर्ना हो सकता है भारी नुकसान

ऐसा कहा जाता है कि प्रतिदिन पक्षियों को दाना डालने से देवी लक्ष्मी की कृपा होती है। हम में से कई लोग हर रोज अपने घर की छतों या फिर बालकनी में पक्षियों के लिए दाना और पानी रखते हैं। लेकिन, क्या आपको पता है कि  इसका भी एक तरीका होता है, इसके भी कुछ नियम होते हैं जिनका पालन न करने पर इसका उलटा प्रभाव हमारे ऊपर पड़ता है। Mistakes feeding the birds.

पक्षियों को दाना डालना होता है शुभ

ऋषि-मुनि, संत-महात्मा ने भी कहा है कि पशु-पक्षियों को दाना-पानी खिलाने से मनुष्य को सभी परेशानियों से मुक्ति मिल जाती है। पक्षियों को दाना ड़ालने से प्रभु की कृपा होती है और अच्छे स्वास्थ्य के साथ-साथ पुण्य भी प्राप्त होता है। मन की बेचैनी, पारिवारिक क्लेश, स्वास्थ्य खराब हो तो पक्षियों को दाना खिलाने से शांति मिलती है।

पक्षियों को दाना खिलाने से जीवन कष्ट धीरे-धीरे दूर हो जाते हैं।  ऐसा माना जाता है कि चींटियों, चिड़ियों, गिलहरियों, कबूतर, तोता, कौआ और अन्य पक्षियों और गाय, कुत्तों को खाना या पानी देने से मनुष्य को मानसिक शांति मिलती है। पशु-पक्षियों को उनका आहार देने से अशुभ ग्रहों से मुक्ति मिलती है।

पक्षियों को दाना डालने में रखें इन बातों का ध्यान

पक्षियों को दाना डालते समय बहुत कम लोगों को मालूम है कि कुछ बातों का ध्यान भी रखा जाता है। वैसे तो पक्षियों को दाना डालना शुभ होता है, लेकिन अगर इसमें कुछ गलतियां हो जाय तो इसके गंभीर परिणाम भी हो सकते हैं। अगर आपके छत या बालकनी में कबूतर या कबूतरों का झुंड दाना चुगने आता है तो यह काफी शुभ माना जाता है। ऐसा इसलिए कि कबूतरों को बुध ग्रह का जातक माना जाता है।

शास्त्रों में छत को राहू का प्रतीक माना जाता है। इसलिए, कबूतर दाना खाने छत पर आने से बुध और राहू का मेल हो जाता है और इसका शुभ लाभ दाना रखने या देने वाले को मिलता है। इस बात का भी ख्याल रखना चाहिए कि जहां आप पक्षियों के लिए दाना या पानी रख रहें हैं वो जगह साफ-सुथरी हो। अगर जगह साफ-सुथरी न हो तो घरवालों पर राहु हावी हो जाता है जो अशुभ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!