स्वास्थ्य

आप चाहती हैं कि आपका होने वाला बच्चा हो काफी समझदार तो प्रेगनेंसी के समय करें इन चीजों का सेवन

एक महिला के जीवन की ख़ुशी उस समय दुगुनी हो जाती है, जब उसे पता चलता है कि वह प्रेग्नेंट है। उसे अपने होने वाले बच्चे से दुनिया में सबसे ज्यादा प्रेम होता है। जब बच्चा माता के गर्भ में होता है तो महिला की जिम्मेदारी पहले की अपेक्षा काफी ज्यादा बढ़ जाती है। अब उसे अकेले का नहीं बल्कि अपने होने वाले बच्चे का भी ख़याल रखना पड़ता है। ज़रा सी भी भूल बच्चे के लिए काफी भारी पड़ जाती है।

गर्भावस्था के दौरान खान-पान का ख़याल रखने से बच्चा होता है तंदरुस्त:

हर माँ-बाप की चाहत होती है कि उसका होने वाला बच्चा काफी समझदार हो ताकि, वह दुनिया के हिसाब से कदम से कदम मिलाकर चल सके। ऐसा ना होने पर बच्चे को भविष्य में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। महिला अगर अपने प्रेगनेंसी के समय अपने खान-पान का ख़ास ख़याल रखती है तो उसका होने वाला बच्चा तंदरुस्त और सुन्दर होता है। इसके अलावा अगर आप चाहती हैं कि आपका बच्चा स्मार्ट पैदा हो तो आप अपनी इस चाहत को अपने खान-पान में में परिवर्तन करके पूरा कर सकती हैं।

प्रेगनेंसी के समय अंडे के सेवन से बढ़ता है बच्चे का दिमाग:

जी हाँ कुछ ऐसी चीजें हैं, जिनका सेवन प्रेगनेंसी के समय करने से होने वाला बच्चा स्मार्ट होता है। अंडे माँ और होने वाले बच्चे दोनों के लिए काफी फायदेमंद होता है, इससे बच्चा समझदार होता है। यूरोपियनफ़ूड सेफ्टी अथॉरिटी ने अपने एक शोध में बताया है कि प्रेगनेंसी के दौरान अगर दुसरे महीने से महिलाएँ अंडे को अपनी डाईट में शामिल कर लेती हैं तो होने वाले बच्चे का दिमाग और सीखने की क्षमता बढती है।

जानें क्या है अंडे के सेवन के फायदे:

*- भरपूर मात्रा में प्रोटीन:

अंडे में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। अंडे में सेलेनियम, जिंक, विटामिन A, D और कुछ मात्रा में B कॉम्प्लेक्स भी पाया जाता है। इसलिए अंडे को सुपरफ़ूड भी कहा जाता है।

*- दिमाग का विकास:

अंडे में choline और ओमेगा-3 फैटी एसिड मौजूद होता है। यह बच्चों के सम्पूर्ण विकास में मदद करता है। इससे बच्चे की मानसिक बिमारियों से लड़ने की क्षमता भी बढ़ जाती है। इस वजह से बच्चे के दिमाग का बेहतर विकास होता है।

*- कैलोरी:

एक गर्भवती महिला को एक दिन में कम से कम 200 से 300 तक अलग से कैलोरी की आवश्यकता पड़ती है। एक अंडे में लगभग 70 कैलोरी पायी जाती है, जो माँ और बच्चे दोनों को एनर्जी देता है।

Back to top button