समाचार

दुल्हन बोली- 2 लाख दो तभी लूँगी फेरे, सुनकर दूल्हे के बाप को आया हार्ट अटैक

शादी के ठीक पहले लड़केवालों की तरफ से पैसों की डिमांड वाली खबरें बेहद आम है। यदि लड़की वाले उन्हें पैसे न दें तो वर पक्ष शादी तोड़ भी देता है। लेकिन राजस्थान के जयपुर में इसका एकदम उलट मामला सामने आया है। यहां दुल्हन के परिवार ने शादी से पहले दूल्हे से दो लाख रुपए मांग ली। जब उनकी डिमांड पूरी नहीं हुई तो उन्होंने शादी तोड़ भी दी।

वधू पक्ष ने जैसे ही शादी से इनकार किया तो दूल्हे के पिता को हार्ट अटैक भी आ गया। वह तो गरिमत रही कि इलाज के बाद वह ठीक हो गए। हालांकि फिर उन्होंने लड़की वालों के खिलाफ सांगानेर सदर थाने में धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज कर दिया। तो चलिए जानते हैं कि आखिर ये पूरा मामला क्या है?

money

शादी से पहले दुल्हन पक्ष ने मांगे 2 लाख रुपए

एएसआई आषुतोश सिंह ने इस पूरे मामले की जानकारी मीडिया को दी है। उन्होंने बताया कि पीड़ित इंद्रराज ने किरण नाम की लड़की से बेटे का रिश्ता तय किया था। शादी 29 फरवरी को होना तय थी। लेकिन 19 फरवरी को किरण के पिता शंकर ने कॉल कर इंद्रराज से दो लाख रुपए की डिमांड कर दी। जब इंद्रराज ने पैसे देने में सक्षम न होना बताया तो लड़की के पिता ने शादी तोड़ दी।

इंद्रराज का कहना है कि उन्होंने किरण और उसके पिता ने जेवरात व कपड़ों के लिए पहले ही 4 लाख रुपए ले लिए थे। शादी के कार्ड छप गए, गहने रेडी हो गए, कपड़े, टैंट, हलवाई, बैंड-बाजों इत्यादि की बुकिंग भी हो गई थी। फिर अंतिम समय पर किरण और उसके पिता की नीयत बिगड़ गई और उन्होंने और पैसों की मांग कर दी।

केसीसी लोन पर गारंटर बनवाया

पीड़ित इंद्रराज के अनुसार शादी की सभी तैयारियां हो जाने के बाद शंकर का कॉल आया था। उसने कहा कि शादी में कुछ पैसे कम पड़ गए हैं। इसलिए मैं एक केसीसी लोन ले रहा हूं। तुम गारंटर बन जो। अब शादी की तैयारियों को देख इंद्रराज ने कुछ कुछ खाली स्टांप पर दस्तखत कर दिए।

इसके बाद लड़की के पिता ने 2 लाख रुपए मांग लिए। इंद्रराज ने उनसे कहा कि अब मैं और पैसे नहीं दे पाऊँगा। यह सुन शंकर और किरण ने शादी तोड़ दी। फिलहाल पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है और मामले की जांच कर रही है।

Back to top button