समाचार

बिहारी युवक के लिए ऐसा धड़का जर्मनी की लड़की का दिल, दौड़ी चली आई शादी करने, बोली, पसंद है इंडिया

मोहब्बत किसी से भी हो जाए, उसको पाने के लिए कुछ भी कर जाना ही असली कसौटी होता है। कुछ ऐसा ही हुआ है जर्मन लड़की के साथ जिसको बिहारी लड़के से इश्क हो गया। इश्क भी ऐसा परवान चढ़ा कि वो अपना देश छोड़कर बिहार पहुंच गई।

देसी-विदेशी लव स्टोरी का ये मामला बिहार के राजगीर से सामने आया है। यहां एक शादी खासी चर्चा का विषय बनी हुई है। गांव के लोगों के बीच इसी विवाह का जिक्र हो रहा है। ये शादी जर्मनी की लारिसा बेल्ज और सतेन्द्र कुमार की थी जिनकी लव स्टोरी के चर्चे जमकर हो रहे हैं।

ऐसे हुआ दोनों को प्यार

अब हम आपको दोनों की लव स्टोरी के बारे में बताते हैं। बिहार के रहने वाले सतेन्द्र साल 2019 में स्वीडन गए थे। वो वहां पर कैंसर पर शोध करने पहुंचे थे। वहीं पर उनकी पहली मुलाकात जर्मनी की लारिसा से हुई। वो भी स्वीडन में कैंसर पर रिसर्च करने आई थी। यहीं पर दोनों की मुलाकात हुई।

ये मुलाकात भी धीरे-धीरे प्यार में बदल गई। इसके बाद दोनों ने शादी करने का फैसला भी ले लिया। हालांकि दोनों के धर्म अलग-अलग थे। इसकी भी दोनों ने परवाह नहीं की और अपने-अपने परिवार से बात की। दोनों की खुशी के लिए परिवार वाले भी राजी हो गए और दोनों का जल्द से जल्द विवाह करने का फैसला कर लिया।

लड़की बोली, पसंद है इंडिया

दोनों पहले ही शादी करने वाले थे लेकिन कोरोना ने दोनों के विवाह में देरी करवा दी। इसके बाद जब हालात सामान्य हुए तब जाकर दोनों एक दूसरे के हो गए। जर्मनी की लड़की को इंडिया बहुत पसंद है। उसका कहना है कि मेरे और इस देश के कल्चर में बहुत अंतर है लेकिन यहां के लोग बहुत अच्छे हैं। वो इंडिया को जानना समझता चाहती है।

पति सिखाता है हिन्दी

विदेशी दुल्हन को हिन्दी नहीं आती लेकिन उसको कोई परेशानी नहीं होती है। इसकी वजह उसका पति सतेन्द्र है। सतेन्द्र न सिर्फ उसको थोड़ा बहुत हिन्दी सिखाने की कोशिश करते हैं बल्कि दूसरों से बातचीत के लिए भी वो हिन्दी को इंग्लिश में ट्रांसलेट करते हैं। इस शादी से सतेन्द्र के परिवार वाले भी बहुत खुश हैं।

वहीं विदेशी दुल्हन के माता-पिता भी बेटी की शादी में भारत आना चाहते थे। उनको वीजा नहीं मिल सका, इसलिए उन्होंने वहीं से उसको आशीर्वाद दे दिया। दोनों की शादी राजगीर के होटल में हुई थी लेकिन इसके बाद गांव में भी रिसेप्शन रखा गया। इसमें गांव वालों को बुलाया गया। इस जोड़े को देखने के लिए लोग शादी में पहुंचे।

Back to top button
?>