ग्रीन टी हैं अमृत के समान पीने से होते हैं यें फायदे जिनके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए..!

ग्रीन टी यानी की हरी चाय दुनिया में सबसे महत्वपूर्ण पेय पदार्थों में से एक है। यह एक स्वादिष्ट पेय पदार्थ होने के साथ-साथ हमारे स्वास्थ्य के लिए भी बहुत अच्छी होती है। ग्रीन टी में महत्वपूर्ण एंटीवायरल और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। जो कि हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में अहम भूमिका निभाते हैं। आज के समय में हम सभी को अनेक प्रकार के रोगों ने चारो तरफ से घेर रखा हैं। डॉक्टरों के चक्कर लगा लगा कर थक गए हैं लेकिन कोई बढ़िया इलाज नहीं मिलता। उनके लिए ग्रीन टी अमृत के समान हैं। ग्रीन टी का सेवन सबसे फायदेमंद रहता है।

हम अपने इम्यून सिस्टम को दुरुस्त बनाने के लिए कई तरह के नुस्खे अपनाते हैं। अपने शरीर को इन रोगों से बचाने के लिए और मजबूत इम्यून सिस्टम पाने के लिए ग्रीन टी का सेवन नियमित करना चाहिए। आइए आपको बताते हैं ग्रीन टी से होने वाले फायदों के बारे में।

ग्रीन टी से पाएं मजबूत इम्यून सिस्टम :

मौसम के बदलाव से कई लोगों का इम्युनिटी सिस्टम कमजोर हो जाता है। और वह जल्दी बीमार पड़ जाते हैं। कमजोर इम्युनिटी सिस्टम के कारण जुखाम, गले का खराब होना, फ्लू या फिर बुखार आदि समस्याएं हो जाती हैं। इन सभी समस्याओं से बचने और इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए सबसे अच्छा उपाय है ग्रीन टी का प्रयोग। ग्रीन टी एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होती है। इसलिए इसका प्रयोग शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढाने के किया जाता हैं। ग्रीन टी में विटामिन सी और पोलीफेनॉल्स के गुण भी होते हैं जो की शरीर से हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म कर के इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। अगर आप भी मजबूत रोग प्रतिरोधक क्षमता चाहते है तो आज ही ग्रीन टी का सेवन करना शुरू कर दीजिए।

मधुमेह के रोगियों के लिए फायदेमंद :

आज के समय में मधुमय एक भयंकर बीमारी बन गई हैं। दुनिया में बहुत से लोग मधुमय से पीड़ित हैं। उनको इस बीमारी से बचने के लिए ग्रीन टी पीनी चाहिए। ग्रीन टी के सेवन से मधुमेह रोगी के रक्त में शर्करा का स्तर कम होता हैं। मधुमेह रोगी के भोजन करने से उसके शरीर में शर्करा का स्तर बढ़ जाता हैं इसी स्तर को ग्रीन टी संतुलित करने में सहायक होती हैं। ग्रीन टी में मधुमेह विरोधी गुण होते हैं। जो मधुमेह से ग्रस्त रोगी में ओक्सीडेटिव तनाव कम करता है। और उनमें ग्लूकोज को बढ़ाता है। मधुमेह की मुख्य वजह शरीर में इंसुलिन की कमी होती है। लेकिन ग्रीन टी शरीर में मधुमेह को रोककर रखने में एक सक्षम पेय पदार्थ है। इसके साथ ही ग्रीन टी से शरीर का हानिकारक कॉलेस्ट्रोल भी कम होता हैं।

कैंसर से बचाव करती हैं ग्रीन टी :

एक शोध से पता चला है की ग्रीन टी में कई ऐसे एंटीऑक्सीडेंट होते है जो कैंसर के जोखिम को कम कर करते हैं। जैसे स्तन कैंसर, प्रोस्टेट, कोलोरेक्टल, अग्नाशय, मूत्राशय, फेफड़े और पेट का कैंसर। यह ब्रेस्ट कैंसर की बीमारी का खतरा 25 % तक कम कर देती हैं। ग्रीन टी कैंसर के विषाणुओं को मारती हैं और शरीर के लिए आवश्यक तत्व को शरीर में बनाये रखने में मदद करती हैं। जिसको कैंसर का रोग है उसे दिन में 2 से 3 कप ग्रीन टी के पीने चाहिए। यह रक्तचाप कम करने में भी सहायक होती हैं। जो कोई भी लगातार ग्रीन टी का सेवन लगभग एक वर्ष तक करे उस व्यक्ति के उच्च रक्तचाप के खतरे को 46% कम किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.