समाचार

माइक्रोसॉफ्ट के CEO सत्या नडेला के बेटे का निधन, सिर्फ 26 साल में इस गंभीर बीमारी ने ले ली जान

विश्व की टॉप मोस्ट टेक्नालॉजी कंपनियों में से एक माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला के 26 वर्षीय बेटे जेन नडेला का निधन हो गया है। जेन नडेला को जन्म से ही सेरेब्रल पाल्सी बीमारी थी।

माइक्रोसॉफ्ट के अनुसार जेन का निधन सोमवार सुबह हुआ। कंपनी ने अपने स्टाफ को मेल कर यह दुखद सूचना दी। अपने बेटे की वजह से ही 2014 में माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ बनने के बाद से सत्या नडेला ने कंपनी के उत्पादों को इस तरह डिजाइन करने पर ध्यान केंद्रित किया, ताकि दिव्यांग उपयोगकर्ताओं को भी बेहतर सेवाएं प्रदान की जा सकें। इस काम में उन्होंने जेन की सेवा करते हुए मिले अनुभवों का भी सहारा लिया। बयान में कहा गया है कि जेन को संगीत का शौक था।

जेन का अधिकांश वक्त अमेरिका के सिएटल स्थित चिल्ड्रंस हॉस्पिटल में बीता। यहां पिछले साल सत्या नडेला ने जेन नडेला न्यूरो साइंसेस सेंटर की स्थापना की, ताकि मस्तिष्क रोगों को लेकर एकीकृत शोध किया जा सके। इस अस्पताल के सीईओ जेफ स्परिंग ने अपने संदेश में लिखा कि जेन को संगीत की अच्छी पकड़ थी। उसकी मुस्कान और अपने परिवार और अपने प्रियजनों को उनके द्वारा दी गई खुशी के लिए याद रखा जाएगा।

जेन सेरिब्रल पॉल्सी (CP) नामक बीमारी से पीड़ित थे। यह बीमारी मस्तिष्क के असामान्य विकास या उन हिस्सों को नुकसान पहुंचने के कारण होती है, जिनसे शरीर का संचालन व संतुलन रहता है। इस कारण पीड़ित व्यक्ति मांसपेशियों का सामान्य ढंग से संचालन नहीं कर पाता है। सेरिब्रल पॉल्सी से ग्रस्त बच्चों में मानसिक रोग, सीखने में अक्षमता, देखने, सुनने व बोलने में समस्याएं आती हैं।

जेन की बीमारी ने सत्या नडेला पर गहरा असर डाला

सत्या नडेला 2014 से माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ हैं। वह कई मौकों पर बताते रहे हैं कि उनके करियर में बेटे जैन का बहुत योगदान है। एक बार उन्होंने कहा था, ‘जैन के पैदा होने के बाद मेरे लिए चीजें बदलने लगीं। उसके जन्म ने हर चीज पर असर किया। मैं कैसे सोचता हूं, कैसे लीड करता हूं और किस तरह लोगों से रिलेट करता हूं…ये सब जैन के आने से बदल गया।’

सत्या नडेला की पत्नी अनु नडेला ने एक बार कहा था कि उनके बेटे जैन को बचाने में टेक्नोलॉजी का अहम योगदान रहा। इस कारण उनके परिवार में टेक्नोलॉजी को काफी वैल्यू दी जाती है। उन्होंने कहा था कि उनके घर में बेटे जैन, दोनों बेटियों. और सत्या नडेला हमेशा ही आपस में टेक्नोलॉजी पर बातचीत किया करते थे।

Back to top button