समाचार

लव-सेक्स-धोखा: ऑटो वाले के इश्क में पड़ी 18 साल की ब्यूटीशियन, दिल देकर बर्बाद कर ली जिंदगी

दोस्ती, प्यार और जबरदस्ती इन सब में एक बहुत ही बारीक सीमा होती है। जब कोई इन्हें लांघ जाता है तो बवाल मच जाता है। आज हम आपको एक ऐसी प्रेम कहानी सुनाने जा रहे हैं जिसका अंत बहुत ही बुरा हुआ। ये लव स्टोरी है मध्य प्रदेश के ग्वालियर में रहने वाले 18 वर्षीय ब्यूटीशियन और एक ऑटो ड्राइवर की।

ब्यूटीशियन को हुआ ऑटो चालक से इश्क

महेशपुरा इलाके में रहने वाली 18 साल की एक ब्यूटीशियन एक सैलून में नौकरी करती है। वह रोज घर से सैलून जाने के लिए ऑटो का इस्तेमाल करती है। इसी दौरान उसकी मुलाकात मामा का बाजार में रहने वाले ऑटो चालक राजा खान से हुई। ब्यूटीशियन अक्सर राजा खान के ऑटो से आना-जाना करने लगी। जल्द ही दोनों में दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे दोनों में प्यार भी हुआ।

ऑटो चालक ने धोखा देकर किया दुष्कर्म

ऑटो चालक राजा खान अब रोज ब्यूटीशियन के घर आने-जाने लगा। फिर 3 अक्टूबर की शाम जब राजा ब्यूटीशियन के घर आया तो उसने युवती को घर में अकेली पाया। इस स्थिति को देख उसकी नियत बिगड़ गई। उसने युवती से संबंध बनाने की कोशिश की। जब युवती ने इससे इनकार किया तो राजा ने जबरदस्ती की और उसका रेप कर दिया।

ब्लैकमेल कर देता था बदनाम करने की धमकी

रेप करने के बाद ऑटो चालक ने ब्यूटीशियन को शादी का झांसा दिया। शादी की बात सुन ब्यूटीशियन कुछ दिनों तक चुप रही। हालांकि ऑटो चालक बाद में युवती को ब्लैकमेल कर और रेप करने लगा। जब तंग आकर युवती ने ऑटो चालक से बात करना बंद कर दिया, तो उसने ब्यूटीशियन को को समाज में बदनाम करने की धमकी दी।

थाने पहुंची पीड़िता ने की शिकायत

इस बात से परेशान होकर युवती सीधा थाने जा पहुंची। यहां उसने पुलिस को पूरी कहानी सुनाई। युवती के बयान के आधार पर पुलिस ने आरोपी ऑटो चालक राजा खान के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। फिलहाल वह मामले की जांच कर रही है। वहीं युवती की मांग है कि उसके धोखेबाज प्रेमी राजा खान को कड़ी से कड़ी सजा हो।

यह पूरा मामला सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ। इसके पहले भी ऐसे कई मामले सामने आए हैं जहां युवक शादी का झांसा देकर प्रेमिका से दुष्कर्म कर चुके हैं। इन घटनाओं से सीख लेते हुए युवतियों को सोच समझकर ही अपने प्रेमी का चुनाव करना चाहिए। यदि वह कुछ गलत करे तो चुप नहीं रहना चाहिए, तुरंत पुलिस को सूचित करना चाहिए।

Back to top button