Viralसमाचार

खूंखार भालू के बाड़े में 3 साल की मासूम बेटी को फेंक दिया, एक मां ने ममता को किया कलंकित

कहते हैं कि पूरी दुनिया में मां के आंचल से बढ़कर कोई सुरक्षित जगह नहीं होती। जानवर भी अपने बच्चों की जीवन की रक्षा के लिए अपने प्राणों की बाजी लगा देते हैं। लेकिन इसी दुनिया में एक ऐसी मां का भी चेहरा सामने आया, जिसने इस ममता को कलंकित कर दिया। इस बेरहम मां ने मरने के लिए अपनी बच्ची को खूंखार भालू के बाड़े में फेंक दिया। क्या है पूरा मामला आपको आगे बताते हैं-

Bear

यह चौंकाने वाला मामला उज्बेकिस्तान के ताशकंद  से सामने आया है। जहां एक मां अपने बच्चे को सैर कराने के बहाने उसे चिड़ियाघर के पार्क में लेकर पहुंचती है। और अपनी मासूम बच्ची को भालू के बाड़े में धक्का दे देती है।

पूरी घटना सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई और वीडियो सोशल मीडिया  पर वायरल भी हो गया। इस वीडियो को देखने से साफ लग रहा है कि यह महिला अपने बच्चे को जानबूझ कर भालू के सामने धक्का दे रही है। वीडियो देखने के बाद हर कोई इस कलियुगी मां को खूब कोस रहा है।

मां ने बेटी को रेलिंग से धक्का दिया

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ताशकंद की एक 3 साल की बच्ची अपनी मां के साथ चिड़ियाघर गई थी। उसके बाद उसकी मां भालू को दिखाने के लिए उसके बाड़े की रेलिंग के पास खड़ी हो गई। सब कुछ ठीक चल रहा था. लेकिन चंद मिनट बाद ही कुछ ऐसा हुआ कि वहां मौजूद सभी लोग हैरान रह गए।

महिला ने भालू दिखाने के बहाने अपने बेटी को रेलिंग से धक्का दे दिया। इसका एक सीसीटीवी फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें एक महिला एक बच्चे को धक्का देती नजर आ रही है।

बच्ची का क्या हुआ?

जहां एक मां अपनी ममता भूल बच्ची को भालू के सामने फेंक दिया, तो वहीं भालू अपनी पशुता भूल कर देवता बन गया। जैसा कि आप वीडियो में देख सकते हैं लड़की के यार्ड में घुसते ही भालू तुरंत ही बच्चे के पास जाने की कोशिश करता है। यह जानकर सुकून मिलता है कि जूजू नाम के भालू ने लड़की को नुकसान नहीं पहुंचाया।

भालू ने सूंघा और उसे जाने दिया। उधर, बच्ची के गिरने की खबर मिलते ही चिड़ियाघर के कर्मचारी तुरंत भालू क्षेत्र की ओर दौड़ पड़े। इसके बाद उन्होंने बच्ची को सकुशल बाहर निकाला। घटना में बच्ची को मामूली चोट आई है, लेकिन वह काफी डरी हुई है।

आरोपी मां को हो सकती है सजा

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना के बाद लड़की की मां को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। महिला पर बच्चे की हत्या का प्रयास करने का आरोप है। अगर दोषी ठहराया जाता है, तो उसे 15 साल तक की जेल हो सकती है। वहीं, चिड़ियाघर के एक प्रवक्ता ने कहा कि महिला ने जानबूझकर लड़की को भालू के घर में धकेला था।

इसके अलावा वहां मौजूद लोगों ने भी उनके बयान की पुष्टि की। लोगों का कहना है कि उस वक्त हमने महिला को रोकने की कोशिश की, लेकिन तब तक वह अपनी बेटी को भालू के बाड़े में फेंक चुकी थी। हालांकि महिला ने ऐसा क्यों किया इसकी जानकारी अभी नहीं मिल पाई है।

Back to top button
?>