विशेष

ससुराल में रहकर सालियों और साले की पत्नी से संबंध बनाता था शख़्स, सबने मिल कर इस तरह चखाया मज़ा

देवघर : झारखंड के देवघर में हाल ही में फुलेश्वर पंडित नाम के शख़्स की हत्या का मामला सामने आया था. अब फुलेश्वर पंडित मर्डर केस में बड़ा खुलाआ हुआ है. पुलिस ने इस केस में बड़े राज से पर्दा उठाते हुए बताया है कि मृतक फुलेश्वर ने क्या-क्या गुल खिलाए थे. मृतक से जुड़ी जो ताजा जानकारी सामने आई है उसने सभी के होश उड़ा दिए है.

पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया है कि फुलेश्वर अपने ससुराल में रहता था. मृतक यहां मजदूरी का काम करता था. ससुराल में रहने के दौरान फुलेश्वर ने ख़ूब गुल भी खिलाए. आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि फुलेश्वर पंडित के अपनी दो सालियों और अपने साले की पत्नी से अवैध संबंध थे.

पुलिस ने अपनी जांच में जिन तथ्यों के बारे में बात की है वो लोगों को दांतों तले उंगली दबाने को मजबूर कर रहे हैं. अपनी सालियों और साले की पत्नी संग अवैध संबंध बनाने के बाद फुलेश्वर आए दिन परिवार के लोगों पर ऐसा करने के लिए दबाव बनाता था. हालांकि परिवार ने उसको सबक सिखाने का मन बना लिया था और उसे मौत के घाट उतार दिया था.

बता दें कि मृतक फुलेश्वर झारखंड के देवघर जिले के बसवरिया गांव का रहने वाला था. वहीं यह मामला जसीडीह के सिंघवा गांव से जुड़ा हुआ है. मृतक की शादी 9 साल पहले सिंघवा के मोहरियाबाद गांव की कल्पना से हुई थी. बताया जाता है कि मृतक ससुराल में रहकर मजदूरी करता था.

murder

18 जनवरी को पुलिस को उसकी लाश सिंघवा गांव के पास डढवा नदी से मिली. जसीडीह थाना के इंस्पेक्टर विक्रम प्रताप सिंह के अंतर्गत मामले की जांच शुरु हुई. सबसे पहले पुलिस को मृतक के ससुराल वालों पर शक हुआ. जब पुलिस ने सख्ती से फुलेश्वर के ससुराल वालों से पूछताछ की तो उन्होंने पुलिस के सामने सब कुछ उगल दिया.

फुलेश्वर से उसके ससुराल वाले तंग आ चुके थे और सभी ने मिलकर फुलेश्वर की हत्या की साजिश रची. एक दिन मौक़ा मिलते ही सभी ने फुलेश्वर को दबोच लिया और उसे मौत की नींद सुला दिया.

murder

जानकारी के मुताबिक, फुलेश्वर पंडित के शव की पहचान उसके भाई ने की. इस मामले में पुलिस ने मृतक की सास रुकवा देवी और साली मुन्नी देवी की गिरफ़्तारी की और दोनों को जेल भेज दिया है. वहीं इस हत्याकांड में पुलिस की गिरफ़्त से अभी भी पांच आरोपी फरार है. फिलहाल पुलिस अन्य आरोपियों को पकड़ने में जुटी हुई है.

Back to top button