अध्यात्म

पुरुष-महिला या जानवर, अगले जन्म में आप क्या बनेंगे, भगवान ऐसे करते हैं फैसला

इस प्रकृति का एक नियम है। जिसने जन्म लिया उसकी मृत्यु होना भी तय है। कई धर्मों का मानना है कि इंसान मौत के बाद फिर से जन्म लेता है। ऐसे में कई लोगों के मन में ये जिज्ञासा भी रहती है कि मरने के बाद अगले जन्म में वह क्या बनेगा। मतलब वह एक पुरुष होगा, महिला होगा या कोई जानवर का रूप लेगा। हिंदू धर्म की भाषा में कहे तो वह किस यौनि में जन्म लेगा।

garuda purana

इस जिज्ञासा को शांत करने के लिए कई धर्म-पुराणों में अलग-अलग बातें कही गई हैं। महापुराण गरुड़ पुराण भी इनमें से एक है। इसके अनुसार हर व्यक्ति के हर कर्म का लेखा-जोखा रखा जाता है। वह कैसा काम करता है, कितने पाप-पुण्य करता है इसी के आधार पर उसे मरने के बाद सजा और अगले जन्म की योनि मिलती है।

आप अगले जन्‍म में महिला बनेंगे या पुरुष ऐसे जाने

man vs woman

गरुड़ पुराण में इस बात का जिक्र पढ़ने को मिलता है कि आप मरने के बाद अगले जन्म में किस योनि में पैदा होंगे। आसान शब्दों में कहे तो आप इंसान बनेंगे या पशु या कीड़े-मकोड़े। यदि इंसान बने तो फिर महिला बनेंगे या पुरुष इसका जिक्र भी गरुड़ पुराण में किया गया है।

ऐसे लोग बनते हैं महिला

woman in dark

यदि आप कोई पुरुष हैं और किसी महिला की तरह व्यवहार करते हैं तो आपकी आत्मा अगले जन्म में महिला के शरीर में जन्म लेती है। मतलब जो पुरुष महिलाओं की तरह आचरण रखते हैं, उनकी तरह शौक पालते हैं या जिनके मन में कभी-कभी विचार आते हैं कि काश मैं महिला होता, तो वह अगेल जन्म में महिला ही पैदा होते हैं।

ये लोग बनते हैं पुरुष

man

इसी तरह जो महिलाएं पुरुषों की तरह व्यवहार करती है। जिनमें मर्दों वाला व्यक्तित्व होता है या जिन्हें मर्द बनने में अधिक दिलचस्पी होती है वह भी अगले जन्म में पुरुष के रूप में पैदा होते हैं।

भगवान के चरणों में स्थान के लिए ये करें

hands

मरने से पहले यदि कोई पुरुष बार-बार किसी महिला का नाम लेता है तो वह अगले जन्म में महिला बन जाता है। इसी तरह महिला मरने से पहले पुरुष का नाम ले तो वह अगले जन्म में पुरुष बनती है। इसलिए कहा जाता है कि मरते समय भगवान का नाम लेना चाहिए ताकि आप जन्‍म-मरण के इस चक्र से मुक्ति पाकर सीधा भगवान के चरणों में स्‍थान पाए

पाप-पुण्य भी निभाते हैं अहम भूमिका

pap punya

आप अगले जन्म में इंसान भी बनेंगे या नहीं इसका फैसला आपके वर्तमान जन्म के पाप-पुण्‍य तय करते हैं। यही आपको स्‍वर्ग या नर्क में स्थान भी दिलाते हैं।

ऐसे लोग बनते हैं जानवर

animals

यदि कोई शख्स जानवरों की तरह व्यवहार करता है तो वह अगले जन्म में पशु योनि में जन्म लेता है। यहां जानवरों की तरह व्यवहार से तात्पर्य है वह चीजें खाना जो पशु खाते हैं या वैसा आचरण और व्यवहार रखना जैसे जानवरों का होता है।

Back to top button