अध्यात्म

सनातन धर्म में वर्जित है इन चीज़ों का दान, अगर किया तो हो जाएंगे बर्बाद!

सनातन धर्म के बारे में कहा जाता है कि इसका ना कोई अंत है और ना कोई शुरुआत, ये एक अनंत धर्म है। Donate according to sanatan dharma. वैदिक ग्रंथों के मुताबिक सनातन धर्म में बताया गया है कि इन चीज़ों का दान नहीं करना चाहिए वरना आप बर्बाद हो सकते हैं।

पुस्तक :

सनातन धर्म के मुताबिक हमें अपनी पुस्तक किसी को भी दान में नही देनी चाहिए। क्योंकि पुस्तकों से ही हमें ज्ञान देती हैं। लेकिन, किसी मित्र को अगर पुस्तक देना पड़े तो उसे नई खरीद कर दें। लेकिन कभी भी इस्तेमाल की हुई पुस्तक किसी को दान न करें।

कलम :

हम अक्सर देखा जाता है कि हम अपना पेन दूसरों को काम करने के लिए दे देते हैं। सनातन धर्म में पेन को अच्छे कर्मों की निशानी माना गया है। इसलिए अगर आप अपना पेन को किसी को देते हैं तो इसका अर्थ होता है कि आप अपना अच्छा कर्म उस व्यक्ति को दे रहें हैं।

 

कपड़े :

अगर आप किसी और के कपड़े पहनते हैं या अपना कपड़ा किसी और को देते हैं तो ऐसा अब कभी मत करें। सनातम धर्म के मुताबिक अपने कपड़े किसी और देना या लेने से नकारात्मकता फैलती है जो दरिद्रता का कारण बनता है। ज्योतिष के मुताबिक आपके पहनावे से आपका शुक्र अच्छा होता है, इसलिए ऐसा कभी नही करना चाहिए।

 

पति या पत्नी :

आपका पति या आपकी पत्नी मान-मर्यादा की परछाई होती है। अगर कोई अन्य व्यक्ति उस पर अपना हक दिखाता है तो इससे आपको क्षति होती है। इसीलिए किसी भी हालात में किसी अन्य व्यक्ति से अपने पति या पत्नी को बांटना नहीं चाहिए।

रूमाल :

सनातन धर्म के मुताबकि रुमाल काफी पवित्र होता है। रुमाल से हम अपने माथे का पसीना पोछते हैं जो हमारी किस्मत बनाता है। रुमाल को कई लोग तो अपनी जेब में अपने पर्स या वॉलेट के साथ रखते हैं जिससे हमारे धन को भी प्रभाव पड़ता है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close