विशेष

एक रुपये का यह खास सिक्का खोल सकता है आपकी क़िस्मत, एक सिक्के के मिल रहे हैं 10 करोड़ रुपये

अक़्सर आपने देखा होगा कि कुछ लोगों को पुराने नोट या फिर सिक्के इकट्ठा करने का शौक होता है। जी हां कई लोग आपको ऐसे मिल जाएंगे। जिनके पास पुराने सिक्के या नोट होंगे। कोई किसी विशेष अक्षर लिखें नोट को संग्रहित करता है तो कोई एंटीक सिक्के को और हम आपको बता दें कि आप ऐसे ही सिक्के संग्रहित करने के शौकीन है, तो आपको यह लाखों रुपए की कमाई का जरिया बन सकता है। आइए जानते हैं यह कैसे संभव हो सकता है।

Indian Currency

बता दें कि अगर आपके पास एक रुपए का सिक्का है तो आप करोडों के मालिक बन सकते हैं। बशर्ते कि इसके लिए शर्त यह है कि वह सिक्का सामान्य नहीं, बल्कि एंटीक होना चाहिए। मालूम हो कि ये खास सिक्‍का अंग्रेजों के जमाने (British Rule) का होना चाहिए और इसके साथ ये सिक्का साल 1885 का बना होना चाहिए।

अगर ऐसे में आपके पास 1 रुपये का ऐसा सिक्का है, जिस पर साल 1885 छपा है, तो इसे आप ऑनलाइन नीलामी (Online Auction) के लिए डाल सकते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो हाल ही में एक ऑनलाइन ऑक्शन में 1 रुपये के सिक्के के बदले 10 करोड़ रुपये मिले हैं और इस ऑनलाइन ऑक्शन में इस सिक्के को बेचने वाला शख्स मालामाल बन गया। अब आप सोच रहें होंगे कि यह कैसे सम्भव है तो आइए अब चर्चा कर लेते हैं इसके तरीक़े के बारे में…

Indian Currency

मालूम हो कि अगर आपके पास ये 1 रुपये का दुर्लभ सिक्का है, तो इसे आप OLX पर ऑनलाइन बेच सकते हैं और इस वेबसाइट पर इस दुर्लभ सिक्के को खरीदार मोटी रकम दे रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सिक्का बेचने के लिए आप सबसे पहले Olx पर एक सेलर के रूप में अपने आपको रजिस्टर करेगे।

इसके बाद सिक्के की दोनों साइड की फोटो क्लिक करके अपलोड करें और फिर अपना मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी दर्ज करें। वहीं वेबसाइट पर आपके द्वारा दी गई जानकारी को वेरिफाई करना जरूरी होता है। ऐसे में जिन्हें भी खरीदना होगा वो आपसे संपर्क करेंगे और फिर आप इस बिक़वाली से अमीर बन सकते हैं।

Indian Currency

वहीं आख़िर में बता दें कि इन सिक्कों को बेचने और खरीदने के लिए आप अन्य कई ऑनलाइन साइट्स जैसे- quickr, ebay, olx, indiancoinmill, indiamart, coinbazar आदि का भी चयन कर सकते हैं और इन सिक्कों से अमीर बन सकते हैं। हाँ इस डील से जुड़ी एक विशेष बात है।

जिसके मुताबिक इन सिक्कों की खरीद-बिक्री में सेलर यानी बेचने वाले और बायर यानी खरीदने वाले ही होते हैं। ऐसे में इसमें किसी भी तरह से RBI की भूमिका नहीं रहती और RBI ने पिछले कुछ समय पहले इस तरह के डील्स के बारे में सतर्क करते हुए बताया था कि इसमें केंद्रीय बैंक की कोई भूमिका नहीं रहती और RBI इसे बढ़ावा नहीं देता है।

 

Back to top button