मुख्य समाचार

अमरनाथ यात्रा के दौरान आतंकियों का हमला, पीएम मोदी ने घायलों के लिए की प्रार्थना!

नई दिल्ली: आतंकवादियों को भारत और यहाँ के लोगों की शांति पसंद नहीं है। तभी तो आये दिन पाकिस्तान के इशारों पर हमले करके देश में दहशत फैलाने का काम करते हैं। आतंकियों ने कई बार भारत के अलग-अलग हिस्सों पर आतंकी हमले किये हैं। लेकिन यहाँ की जनता ने बाद में उन्हें यह दिखा दिया है कि वह इन आतंकियों ने सामने झूकने वाले नहीं हैं। कल रात आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों को अपना निशाना बनाया। आतंकियों ने श्रद्धा की राह में रोड़े लगाने का काम किया, लेकिन भक्तों को इससे कोई फर्क नहीं पड़ा। शिव भक्त उसके बाद भी अपनी यात्रा जारी रखे हुए हैं। पिम मोदी ने आतंकियों के इस हमले की कड़ी निंदा की। उन्होंने कहा कि भारत और यहाँ के लोग इस कायराना हरकत के सामने झूकने वाले नहीं हैं।

आतंकी हमले में 7 लोगों ने गँवाई अपनी जान:

पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती और राज्य के राज्यपाल एन एन बोहरा से बात की। उन्होंने इस हमले की वजह से हताहत लोगों और वहाँ की सरकार को हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है। दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जिले में कल रात आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों पर हमला कर दिया। आतंकियों के इस हमले से 7 यात्रियों की मौत हो गयी।

हमले का दर्द बयाँ करने के लिए शब्द नहीं:

हमले में कई लोगों के घायल होने की भी पुष्टि हुई है। पीएम मोदी ने ट्वीट करके कहा कि शांतिपूर्ण अमरनाथ यात्रियों पर आतंकियों के इस घातक हमले पर दर्द बयाँ करने के लिए उनके पास कोई शब्द नहीं है। उन्होंने कहा कि आतंकियों के इस हमले की सभी लोगों को निंदा करनी चाहिए। पीएम मोदी ने मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना दिखाई है। उन्होंने घायलों के लिए प्रार्थना भी की।

घाटी ने बंद कर दी गयी नेट की सुविधा:

हमले में तुरंत बाद ही पीएमओ हरकत में आ गया। इस आतंकी हमले के पीछे गृह मंत्रालय ने लश्कर का हाथ बताया है। कल जम्मू कश्मीर में अलगाववादियों ने लोगों से सोशल मीडिया पर कश्मीर जागरूकता अभियान की अपील की। इसके बाद से एहतियात के तौर पर कश्मीर में नेट की सुविधा को बंद कर दिया गया है। अधिकारीयों ने बताया कि मोबाइल और ब्रॉडबैंड के साथ ही सभी अन्य नेट सेवाएं बंद कर दी गयी हैं।

Related Articles

Close