ब्रेकिंग न्यूज़

जम्मू कश्मीर में अमरनाथ यात्रियों पर हुआ आतंकी हमला, 7 श्रद्धालुओं की मौत 15 घायल…

जम्मू कश्मीर एक बार फिर आतंकी हमले से हिल उठा है। इस बार आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों को निशाना बनाया है। ये हमला जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में सोमवार रात करीब 8.30 बजे हुआ। यात्रियों पर हुए इस आतंकी हमले में 7 श्रद्धालु मारे गए और 15 श्रद्धालु जख्मी हुए हैं, जिन्हें पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतकों में पांच महिलाएं शामिल हैं। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों की बस पर आतंकी हमले को लेकर देशभर में गुस्सा है। इस हमले ने सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं। Terror attack on Amarnath pilgrims.

40 हजार जवानों की तैनाती के बाद भी कैसे हुआ हमला :

अमरनाथ यात्रा 29 जून को शुरू हुई थी। आतंकी हमले से पहले ही खुफिया विभाग ने अलर्ट जारी किया गया था। जिसके बाद अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा के लिए 40 हजार जवानों को तैनात किया गया था। इसके अलावा केंद्र ने अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू कश्मीर में पैरामिलिट्री फोर्स की 250 अतिरिक्त कंपनियां भी दी हैं। निगरानी के लिए सीसीटीवी, जैमर्स, डॉग स्कॉड की तैनाती की गई है। सुरक्षा के इतने इंतजाम करने के बाद भी आतंकी इस हमले को अंजाम कैसे दे पाए पूरे देश में सिर्फ यही सवाल उठ रहा है।

सुत्रो से मिली जानकारी के मुताबिक हमला करने वाले 2 आतंकी बाइक पर आए थे। इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयब्बा ने ली है। सेना ने आतंकियों की तलाश के लिए पूरे इलाके में सर्च ऑपरेशन चालू कर दिया है।

देशभर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम :

जम्मू कश्मीर में हुए आतंकी हमले के बाद पूरे देश में रेड अलर्ट जारी कर दिया है। पूरे देश में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। उत्तराखण्ड के हरिद्वार में भी सुरक्षा व्यवस्था बढा दी गई है। अब सावन का महीना शुरू हो गया है इसलिए हरिद्वार में भी काफी यात्रा में कांवडिये पहुंच रहे हैं जिस के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। आतंकी हमले के बाद बम निरोधक दस्ते भी तैनात किए गये है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक कर सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा की।

पीएम मोदी ने जताया दुख :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में श्रद्धालुओं पर हुए हमले को लेकर दुख जताया है। प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट संदेश में कहा कि भारत ऐसे कायराना हमलों के आगे नहीं झुकेगा। प्रधानमंत्री ने मारे गए लोगों के साथ संवेदना जताई है साथ ही उन्होंने सभी तरह के सहयोग और सहायता का वादा भी किया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button