नमस्कार दोस्तों। हम उम्मीद करते हैं कि आपका बिता हुआ आधा वर्ष मंगलमय रहा होगा तथा ये मनोकामना करते है कि आने वाले दिन सुख समृद्धि से परिपूर्ण हो। जैसे कि हम सब जानते है आज से नया माह आरम्भ हो चुका है। ऐसा कहा जाता है किसी भी कार्य को सफल बनाने के लिए उसकी शुरुआत अच्छी होनी चाहिए। जिसप्रकार हम सुबह उठकर पूजा पाठ, कसरत जैसे अच्छे कामों में खुदको व्यस्त कर देते है, जिसकी वजह से हमारा पूरा दिन प्रसन्नमय रहता है तथा सकारात्मकता बनी रहती है। बिल्कुल वैसे ही अगर नए महीने की शुरुआत किसी अच्छे कार्यों से की जाए तो सम्पूर्ण महीना सुखमय और सकारात्मक बीतता है। this work in july.

शास्त्रों की माने तो 1 जुलाई का दिन काफी महत्वपूर्ण है :

शास्त्रों की माने तो 1 जुलाई का दिन काफी महत्वपूर्ण है। इस दिन गुप्त नवरात्रि की अष्टमी है साथ ही शनिवार भी है। वैसे देखा जाए तो अष्टमी और शनिवार का यह योग कई वर्षों में एक बार ही देखने को मिलता है, इसलिए यह खास अवसर है। इस योग में विधिवत तरीके से की जाने वाली सारी मनोकामनाएं पूरी होती है। बस हमें कुछ छोटी छोटी बातों का ध्यान रखना होगा। आइये देखते है ऐसी 10 बातें जिनके करने मात्र से आपका सम्पूर्ण महीना खुशहाली से बीतेगा।

1) हिन्दू धर्म मे सबसे पवित्र मानी जाने वाली कुछ चीजें है जैसे कि दूध, गंगाजल, गोमूत्र वगैरा। प्रतिदिन स्नान करते समय पानी में दूध, गोमूत्र तथा गंगाजल मिलाएं। ऐसा करने से बुरी नज़र से बचाव होगा साथ ही साथ पुण्य प्राप्त होगा।

2) आमतौर पर देखा जाता है कि घरों में अक्सर वाद विवाद होता है, कई बार लड़ाई झगड़े भी हो जाते है। इन सबके पीछे मुख्य वजह है घर मे मौजूद नकारात्मक शक्तियां। शास्त्रों में इसका उपाय बताया गया है। कर्पूर में घी मिलाकर उसका धुंआ सारे घर में करने से इस प्रकार की नकारात्मक शक्तियों से बचा जा सकता है। साथ ही साथ घर की पवित्रता भी बढ़ती है।

3) कहते हैं महाकाल सारी सृष्टि के रक्षक है। उन्हें प्रसन्न करने से काफी विपत्तियां टल सकती है। शनिवार के दिन शिवलिंग पर जल चढ़ाना चाहिए। जल में अगर काला तिल मिला दिया जाए तो काफी फायदा देखने को मिलता है। शिवलिंग पर चंदन का टीका लगाने से एवं मिठाई चढ़ाने से परिवार के सभी सदस्य सुरक्षित रहते हैं।

4) शिवजी की पूजा करते समय चावल जरूर चढ़ाए। ध्यान रहे जो चावल आप चढ़ा रहे है वो अखंडित होने चाहिए। इससे आर्थिक परेशानियां दूर होती है।

5) शिवजी को बेल पत्तियां प्रिय है। रोज सुबह शिवलिंग पर 21 बेल पत्तियां चढ़ाने से सभी प्रकार के दुःख दूर होते हैं।

6) अध्यात्म के साथ योग भी काफी महत्वपूर्ण है। अध्यात्म से मानसिक शांति मिलती है तो योग से शारीरिक एवं मानसिक संतुलन बने रहने में मदद मिलती है। रोज सुबह जल्दी उठकर सूर्य देवता को जल चढ़ाना चाहिए। इस दौरान ॐ सूर्याय नमः इस मंत्र का जाप करना चाहिए। ऐसा करने से समाज मे मान सम्मान तो बढ़ेगा ही साथ ही साथ कई प्रकार के जटिल रोगों से मुक्ति भी मिलेगी।

7) प्रतिदिन शिवलिंग पर कच्चा दूध, शहद, दही तथा शक्कर चढाएं। शास्त्रों के अनुसार ऐसा करने से समस्त कुंडली दोषों से मुक्ति मिलती है।

8) हिन्दू संस्कृति में गाय को माता माना जाता है। कहा जाता है गाय के पेट में तैतीस कोटि देवता वास करते हैं। घर में भोजन बनाते समय प्रतिदिन सुबह शाम पहली रोटी गाय के लिए निकाल कर रख दे तथा याद से खिला दे। ऐसा करने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है।

9) पीपल के पेड़ में प्रतिदिन जल चढ़ाना चाहिए। साथ ही पीपल के पेड़ की सात परिक्रमा करनी चाहिए। ऐसा करने से पुराने से पुराने शनि दोष तथा राहु-केतू दोष समाप्त होते हैं।

10) कहा जाता है कि हनुमानजी समस्त परेशानियों के विनाशक होते है। हनुमानजी को सिंदूर तथा चमेली का तेल प्रिय है। प्रतिदिन हनुमान जी को सिंदूर एवं चमेली का तेल चढ़ाना चाहिए। ऐसा करने से समस्त परेशानियां दूर होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.