मारे गए पाक सैनिकों से जो मिला है वो ‘पाकिस्तान की गंदगी’ है!

जम्मू/कश्मीर – पाकिस्तानी सेना का एक और गंदा चेहरा हमारे सामने उस वक्त आया जब एलओसी पार कर पाक की बोर्डर एक्शन टीम (बैट) ने देश के जवानों के शवों के साथ बर्बरता की। अब पाकिस्तान इससे दो कदम आगे निकल गया है। जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में 22 जून को हुए हमले में पाक की बैट टीम ने फिर हमला किया जिसमें दो भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे और जवाबी कार्रवार्ई में बैट का सैनिक मारा गया था। लेकिन, उसके पास से जो मिला है वो देश के लिए खतरे की घंटी तो है कि साथ-साथ पाकिस्तान कितना गिर गया है ये भी दिखाता है। Pakistan bat team attack at loc.

कैमरा और विशेष खंजर लेकर आई थी BAT टीम :

22 जून को हुए पाक की बैट टीम के हमले के बाद चलाए गए सर्च ऑपरेशन में बैट के घुसपैठिये का शव मिला, उसके पास से जो सामान मिले उससे पाकिस्तानी बॉर्डर ऐक्शन टीम की बर्बरता का पता चलता है। घुसपैठिये के पास से जो सामान मिला है वो पाकिस्तानी सेना की बर्बर मानसिकता का सबूत है।

भारतीय सेना ने उसके पास से एक खास किस्म का खंजर, सिर पर लगाने वाला कैमरा, चाकू, एक AK47 राइफल, 3 मैगजीन, 2 ग्रेनेड और कुछ कपड़े और बैग बरामद किए हैं। आपको बता दें कि एलओसी पर ये हमला गुरुवार की आधी रात में हुआ, जिसमें दो भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे।

नियंत्रण रेखा से 600 मीटर अंदर घुसे पाक से आए आंतकी :

इस साल पाकिस्तान की बैट टीम तीसरी बार नियंत्रण रेखा से 600 मीटर अंदर आकर हमला कर चुकी है। आपको बता दें कि बैट टीम में आमतौर पर पाकिस्तान सेना के विशेष बलों के कर्मियों के साथ कुछ आतंकवादी भी होते हैं। भारतीय सेना के एक अधिकारी के मुताबिक, भारी हथियारों से लैस पांच से सात आंतकी सेना की गोलीबारी की आड़ में हमला करने आए थे।

हथियारों से लैस इन घुसपैठियों ने भारतीय गश्ती दल को निशाना बनाया।  इस आंतकी हमले में औरंगाबाद के नाईक जाधव संदीप और कोल्हापुर के सिपाही माने श्रावण बालकू शहीद हो गए। इसके बाद शुक्रवार रात साढ़े तीन बजे तक पाकिस्तान ने भारी गोलीबारी की जिसके जवाब में भारतीय सेना ने भी कठोरता से जवाब दिया।