ब्रेकिंग न्यूज़

नोएडा से अगवा लड़की गोंडा में मिली, अपहरण के मामले में नाटकीय ढंग से हुआ एक नया खुलासा…

यूपी के ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना क्षेत्र में गुरुवार को मॉर्निंग वॉक (Morning Walk) पर निकली 20 साल की छात्रा के अपहरण (Kidnapping) की कहानी फर्जी (Fake) निकली है, तो शनिवार को इस मामले में नया मोड़ आ गया। जी हां इस मामले में ग्रेटर नोएडा पुलिस ने फर्जी एफआईआर दर्ज करा पुलिस को गुमराह करने का मामला दर्ज किया है, तो वहीं युवती को कोर्ट में पेश किया गया। बता दें कि सुनवाई के बाद कोर्ट ने बालिग युवती को उसके प्रेमी के संरक्षण में गोंडा भेज दिया है, क्‍योंकि युवती ने अपने परिवार के साथ रहने इनकार कर दिया है।

Gonda Kidnapped Girl

बता दें कि कोर्ट में 164 सीआरपीसी के बयान के दौरान ज्‍योति ने कहा कि उसे अपने परिजनों से जान का खतरा है और वह अपने प्रेमी के साथ रहना चाहती है। इसके बाद कोर्ट ने कोतवाली बादलपुर पुलिस को आदेश दिया कि वह युवती को उसके प्रेमी अनिमेष तिवारी के साथ सकुशल उसके घर गोंडा पहुंचा कर आए। जानकारी के मुताबिक, छात्रा पर घर वाले प्रेम प्रसंग की वजह से काफी दबाव डालते थे, इसलिए उसने अपने प्रेमी के साथ फरार होने का प्‍लान तैयार किया था।

Gonda Kidnapped Girl

यह था पूरा मामला…

गौरतलब हो कि ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना क्षेत्र में गुरुवार को सुबह 5 बजे मॉर्निंग वॉक पर निकली छात्रा के अपहरण की बात सामने आई थी। अपहरणकर्ता छात्रा को कार में बैठा कर फरार हो गए और शुरू में परिवार द्वारा बताया गया कि छात्रा अपनी एक बहन और दो भाइयों के साथ मॉर्निंग पर निकली थी, लेकिन वापस नहीं लौटी। इतना ही नहीं शुरुआत से ही पुलिस को भ्रमित किया गया।


पुलिस भी प्रेशर में आकर जांच अपहरण मानकर करने लगी, लेकिन पूछताछ में मामला स्पष्ट नहीं होने पर पुलिस अन्य एंगल पर भी जांच कर रही थी। जिसके लिए डीसीपी ने 5 टीमें भी गठित की थी। परिवार ने पुलिस पर जबरन प्रेशर बनाने के लिए जीटी रोड पर जाम लगाने के साथ थाने का घेराव भी किया। हालांकि अपहरण शुरू से संदेह के घेरे में था, क्योंकि जब युवती स्‍वाति के परिवार से पुलिस ने पूछताछ की तो कोई भी सदस्य स्पष्ट जवाब नहीं दे पाया था। इसके अलावा पुलिस के मुताबिक, सुबह 4.30 बजे कंट्रोल रूम को इस मामले की जानकारी दी गई जबकि पीड़ित परिजनों ने कहा था कि अपहरण सुबह 6 बजे के आसपास हुआ।

इनाम की हुई घोषणा…

Gonda Kidnapped Girl

वहीं, पूरे मामले पर गोंडा जिले के पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र ने बताया है कि, जनपद गौतम बुद्ध नगर के क्राइम नंबर 427 बटा 11 थाना बादलपुर नोएडा पुलिस के द्वारा कुछ इनपुट दिए गए थे। उन्हें इनपुट के द्वारा गोंडा में तीन टीमें गठित की गई थी और कोतवाली नगर पुलिस एसओजी सर्विलांस व अन्य टीम लगी हुई थी। नोएडा और गोंडा पुलिस की संयुक्त कार्रवाई के बाद मुकदमे से संबंधित अपहृत बालिका को सकुशल बरामद कर लिया गया इतनी जल्दी कार्रवाई के संदर्भ में शासन द्वारा गोंडा पुलिस को शासन द्वारा 100000 रुपये के इनाम की घोषणा की गई है।

Back to top button