‘ढाई जंग’ की तैयारी में इंडियन आर्मी, निशाने पर चीन-पाक और अलगाववादी!

नई दिल्‍ली आर्मी चीफ बिपिन रावत ने गुरुवार को कहा कि इंडियन आर्मी बाहरी और आंतरिक खतरों से एक साथ निपटने में सक्षम है। समय आने पर सेना ये बात साबित करेगी। उन्‍होंने कहा कि भारत ढाई मोर्चों (पाकिस्‍तान, चीन और कश्मीर के हालात जैसे आंतरिक सुरक्षा) पर युद्ध लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार है। सेना प्रमुख रावत ने कहा है कि भारत मल्टी-फ्रंट युद्ध के लिए पूरी तरह से तैयार है। हमारे पास हर प्रकार के परिस्थिति से निपटने के लिए साधन और क्षमता उपलब्ध है। Army prepared to fight.

पाक, चीन और अलगाववादियों से एक साथ निपटेगी सेना :

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने जम्मू-कश्मीर की स्थिति में जल्द ही हालात में सुधार होने की बात कही है। मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा, ‘कश्मीर के हालात में जल्द सुधार होगा।’ बिपिन रावत ने कहा, ‘पाकिस्तान कश्मीरी युवाओं को सोशल मीडिया के जरिए भरमा रहा है। आपको बता दें कि नियंत्रण रेखा पर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव की स्थिति चिंता का विषय बनी हुई है।’

बिपिन रावत ने कहा कि, ‘पाकिस्तान द्वारा सोशल मीडिया के जरिए कश्मीर के युवाओं को गलत सूचना दी जा रही है।’ उन्होंने आगे कहा कि ‘छेड़छाड़ वाले वीडियो के जरिए पाकिस्तान कश्मीर के युवाओं को भड़का रहा है। इस काम में कश्मीर के कुछ लोग भी पाकिस्तान का साथ दे रहे हैं।

आर्मी चीफ ने पिछले हफ्ते किया था कश्‍मीर का दौरा :

Indian army man ridiculed Pakistan

हाल ही में जनरल रावत ने जम्‍मू कश्‍मीर का दौरा करते हुए पाकिस्‍तान की ओर से एलओसी पर हो रही आक्रामक कार्रवाई का जवाब देने के संबंध में चर्चा की थी। जनरल रावत का यह बयान इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि इस वक्त भारत और पाकिस्‍तान के बीच सीमा पर तनाव चरम पर है और पाकिस्‍तान की ओर से लगातार युद्धविराम का उल्‍लंघन किया जा रहा है।

वहीं, सुरक्षा एजेसिंयों का अनुमान है कि कश्मीर घाटी में इस वक्त करीब 200 आतंकवादी सक्रिय हैं जो कि पिछले साल की तुलना में कम बताई गई है। सरकार और सेना के निशाने पर रडार पर व्हाट्सएप जैसे सोशल मीडिया नेटवर्क भी हैं, जिनसे गलत सूचना फैलाकर इन आतंकियों की मदद की जा रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published.