पाकिस्तान से ‘युद्ध’ लड़ने बार्डर पर जाने की तैयारी कर रही है बजरंग सेना! – देखें वीडियो

नई दिल्ली – वैसे तो पाकिस्तान और उसके द्वारा फैलाये जा रहे आतंकवाद से लड़ने और उन्हें मुंहतोड़ जवाब देने का जिम्मा सेना, सुरक्षा बल, खुफिया एजेंसियों और सरकार का है। लेकिन, ऐसा लग रहा है कि पहली बार देश के जवान एकजुट होकर आतंकियों और पाकिस्तान को सबक सिखाने के मूड में हैं। मामला उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले का है जहां कुछ ऐसा हो रहा है जो चौंकाने वाला है। हरदोई में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं की सशस्त्र ट्रेनिंग चल रही है। Bajrang dal trains its cadre.

बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को दी जा रही है युद्द की ट्रेनिंग :

टीवी न्यूज चैनल आज तक की रिपोर्ट के मुताबिक यह ट्रेनिंग उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में चल रही है। जिसमें कई जिलों से आए हुए लगभग 200 बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को युद्ध जैसे माहौल में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। बजरंग दल की ओर से भी इस बात की पुष्टि की गई है कि इन कार्यकर्ताओं को पाकिस्तान के खिलाफ जंग लड़ने के लिए ट्रेन किया जा रहा है। ऐसा देशहित में किया जा रहा है। ताकि जरूरत पड़ने पर ये कार्यकर्ता पाकिस्तान और आतंकियों को सबक सिखा सके।

बजरंग दल ने ट्रेनिंग के लिए जो कैंप बनाया है उसको देखकर ऐसा लगता है जैसे यहां सच में भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध चल रहा हो। पूरे कैंप में युद्ध जैसा माहौल तैयार किया गया है। ट्रेनिंग कैंप में बकायदा पाकिस्तान की सीमा बनाई गई है। सिर पर हरा साफा पहने कुछ लोग पाकिस्तानी सैनिकों के वेश में भी दिख रहे हैं। युद्ध भूमि में कई लाशें भी पड़ी हुईं हैं। इस तरह की पृष्ठभूमि में बजरंग दल के कार्यकर्ता अपनी ट्रेनिंग कर रहे हैं।

 बजरंग दल पहले देता था सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग :

गौरतलब है कि बजरंग दल पहले भी अक्सर अपने कार्यकर्ताओं को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग रहा देता है। लेकिन इस बार हरदोई में जो ट्रेनिंग कैंप लगाया गया है उसमें बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइकल और युद्ध करने की ट्रेनिंग दी जा रही है। यहां होने वाली ट्रेनिंग को देखकर सेना की मिलिट्री ट्रेनिंग की याद आ जाएगी। बजरंग दल के कार्यकर्ता आग के बीच से गुजरकर अपने साहस का परिचय देते हैं। तो वहीं इस कैंप में इन कार्यकर्ताओं को राइफल और लाठी चलाना भी सिखाया जा रहा है।

इस सबके अलावा, कार्यकर्ताओं को एक्सरसाइज की भी ट्रेनिंग भी दी जा रही है। युद्ध जैसे हालात बनाने के लिए इस ट्रेनिंग कैंप के अंदर हिन्दुस्तान और पाकिस्तान का बार्डर बनाया गया है। कैंप में कुछ लोग पाकिस्तान की ओर से लड़ते हैं तो कुछ लोग हिन्दुस्तान की ओर से लड़ते हुए ‘दुश्मन’ को जवाब देते हैं। बजरंग दल का कहना है कि इस संगठन का उद्देश्य देश सेवा, सुरक्षा और सद्भावना है। और यह ट्रेनिंग भी इसी वजह से दी जा रही है।

देखें वीडियो –

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.