ब्रेकिंग न्यूज़राजनीति

योग दिवस के मौके पर M-Yoga ऐप लॉन्च, योग के विडियोज अलग अलग भाषाओं में उपलब्ध होंगे

आज 7वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस है. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को संबोधित किया. आपको बता दें कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम ‘Yoga For Wellness’ रखी गई है. इस थीम का मुख्य उद्देश्य शारीरिक और मानसिक रूप से शरीर को स्वस्थ रखना है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना काल में योग लोगों के लिए उम्मीद की किरण बनकर उभरा है. इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा, ‘आज जब पूरा देश कोरोना महामारी का मुकाबला कर रहा है, तो योग सभी के बीच उम्मीद की एक किरण बना है.’

pm modi

देश के पीएम ने कहा कि दो वर्ष से दुनिया भर के देशो में और भारत में भले ही बड़ा सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया हों, लेकिन योग दिवस के प्रति उत्साह कम नहीं हुआ है. अपने सम्बोधन में उन्होंने कहा, आज मेडिकल साइंस भी इलाज से साथ-साथ हीलिंग पर बहुत ज्यादा बल देता है और योग हीलिंग प्रोसेस में काफी उपकारक है. इसके साथ ही मुझे संतोष है कि आज योग के इस पहलू पर दुनियाभर के विशेषज्ञ अनेक प्रकार के साइंटिफिक रिसर्च भी कर रहे हैं.

pm modi

उन्होंने कहा था, इस मुश्किल समय में, इतनी परेशानी में लोग इसे भूल सकते थे, इसकी उपेक्षा कर सकते थे. लेकिन इसके विपरीत, लोगों में योग का उत्साह बढ़ा है, योग से प्रेम बढ़ा है. सभी ने बढ़-चढ़कर योग किया है. अब देश को M-Yoga ऐप की शक्ति मिलने जा रही है. इस ऐप में कॉमन योग प्रोटोकॉल के आधार पर योग प्रशिक्षण के कई वीडियो दुनिया की अलग-अलग भाषाओं में भी मिल सकेंगे.

M- yoga

pm modi

इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये भी कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में योग भी एक बड़ा सुरक्षाकवच बन कर उभरा है. यह डॉक्टर और मरीज़ दोनों के लिए एक बेहतर विकल्प बना है. इसके साथ ही पीएम ने एक कहावत का ज़िक्र करते हुए कहा कि किसी भी बीमारी को जड़ से खत्म करना बेहद ही जरूरी है, योग हमें उसका रास्ता दिखाता है. पीएम मोदी ने इसके साथ ही आगे कहा कि ऑनलाइन क्लास के दौरान भी बच्चों को योग करवाया जा रहा है. वहीं भारत के ऋषियों ने, भारत ने जब भी स्वास्थ्य की बात की है, तो इसका मतलब केवल शारीरिक स्वास्थ्य नहीं रहा है. इसीलिए योग में फिजिकल हेल्थ के साथ-साथ मेंटल हेल्थ पर इतना जोर दिया जाता है.

pm modi

उन्होंने कहा, जब भारत ने यूनाइटेड नेशंस में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का प्रस्ताव रखा था, तो उसके पीछे यही भावना थी कि ये योग विज्ञान पूरे विश्व के लिए सुलभ हो. आज इस दिशा में भारत ने यूनाइटेड नेशंस, WHO के साथ मिलकर एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया है. योग हमें स्ट्रेस से स्ट्रेंथ और नेगेटिविटी से क्रिएटिविटी का रास्ता दिखाता है. योग हमें अवसाद से उमंग और प्रमाद से प्रसाद तक ले जाता है.

pm modi

आपको बता दें कि इस साल योग दिवस पर कोरोना संक्रमण के चलते योग दिवस पर इस बार ज्यादातर कार्यक्रम वर्चुअली आयोजित किए जा रहे हैं. इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भी योग दिवस के मौके पर दिल्ली स्थित अपने आवास पर योगाभ्यास किया.

Back to top button