अध्यात्म

Chanakya Niti: बुरा समय आए तो इन 4 चीजों को कभी न भूलें, मुसीबत दुम दबाकर भाग जाएगी

बुरा समय कभी भी बोलकर नहीं आता है। ये जब भी आता है तो अपने साथ ढेर सारी मुसीबतें लाता है। कठिन समय से कैसे निपटा जाए यह सीखना बहुत जरूरी होता है। कहते हैं इंसान की असली परीक्षा उसके बुरे समय में ही होती है। इसलिए यह बहुत जरूरी होता है कि वह कठिन परिस्थितियों में कुछ विशेष बातों का ध्यान रखे। इस बारे में अपने जमाने के मशहूर विद्वान आचार्य चाणक्य ने भी बताया है। चाणक्य ने अपने जीवन के अनुभवों को संजोकर चाणक्य नीति लिखी थी। इस नीति के माध्यम से हम जीवन में सफलता और सुख पा सकते हैं। इसमें कई लाइफ मैनेजमेंट टिप्स देखने को मिल जाती है।

chanakya neeti

अपनी इन्हीं नीतियों में आचार्य चाणक्य ने मुश्किल वक्त में कुछ खास बातों का ख्याल रखने की सलाह दी थी। उन्होंने बताया था कि मुसीबत आने पर चार विशेष चीजों का ध्यान रखना चाहिए। जब संकट आता है तो इंसान के पास लिमिटेड अवसर ही होते हैं। इन सीमित अवसरों में भी चुनौतियां बड़ी होती हैं। ऐसे में एक छोटी सी गलती आपका बड़ा नुकसान कर सकती है। इसलिए बुरे समय में आप कैसे रिएक्ट करते हैं ये बहुत मायने रखता है। तो चलिए आचार्य चाणक्य से ही जान लेते हैं कि बुरा समय आने पर व्यक्ति को किन किन बातों का ख्याल रखना चाहिए।

success

मजबूत रणनीति

आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति में बताया है कि किसी भी संकट से बाहर निकलने के लिए एक मजबूत रणनीति की जरूरत होती है। जब आपक मुश्किल में होते हैं तो उस समय तुरंत इससे निपटने की ठोस रणनीति बना लेना चाहिए। यदि आप एक योजनाबद्ध और चरणबद्ध तरीके से मुसीबत को हैंडल करेंगे तो आप अंत में उसके ऊपर जीत हासिल कर सकते हैं। इसलिए मुसीबत आने पर उससे घबराने की बजाय उससे उभरने की रणनीति पर काम करें।

help

परिवार के प्रति जिम्मेदारी

आचार्य चाणक्य अपनी नीति में कहते हैं कि संकट के समय व्यक्ति कि अपने परिवार की जिम्मेदारियों से मुंह नहीं मोड़ना चाहिए। बल्कि परिवार की जिम्मेदारी उठाना उसका पहला कर्तव्य होना चाहिए। उसे अपने परिवार की सुरक्षा का ध्यान रखना चाहिए। यदि आप या फिर आपका कोई परिजन मुसीबत में है तो उसका साथ देना चाहिए। उन्हें मुसीबत से निकालने में आपको भी मदद का हाथ बढ़ाना चाहिए। आज आप उनकी मदद करेंगे तो कल वे आपकी सहायता को आगे आएंगे।

good health

सेहत का ख्याल

सेहत आपकी सबसे बड़ी पूंजी होती है। यदि आप सेहतमंद रहेंगे तो हर संकट से बाहर निकलने में सक्षम रहेंगे। इसलिए यह बहुत जरूरी है कि आप विषय परिस्थितियों में भी आप अपनी सेहत को लेकर कोई लापरवाही न बरतें। अपने खान पान का ध्यान रखे और सेहत के साथ समझौता न करें। एक अच्छी सेहत आपको मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूत करती है, इससे आप चुनौतियों को मात देने में कामयाब रहेंगे।

money

धन का सही प्रबंधन

मुसीबत के समय पैसा आपका सच्चा मित्र होता है। ये आपके पास हो तो बड़े से बड़े संकट से भी निकला जा सकता है। वहीं संकट के समय यदि धन का अभाव हो तो मुसीबत और बढ़ जाती है। इसलिए आपको अपने पैसों के मैनेजमेंट पर ध्यान देना चाहिए। फिजूल खर्ची की बजाय बचत करनी चाहिए।

Show More
Back to top button