समाचार

सजधज के दूसरी शादी करने आए थे दूल्हे राजा, जयमाला के पहले ही जाना पड़ा थाने

भारतीय कानून के तहत कोई भी हिन्दू पहली पत्नी को तलाक दिए बिना दूसरी शादी नहीं कर सकता है। लेकिन फिर भी कुछ लोग ये काम चोरी छिपे कर लेते हैं। हालांकि उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में एक इंजीनियर दूल्हे को पहली पत्नी के होते हुए दूसरी शादी करना बहुत महंगा पड़ गया। शादी के बीच में ही उसकी पहली पत्नी पुलिस को लेकर आ गई। फिर मंडप में फेरे लेने जाने की बजाय उसे सीधा थाने जाना पड़ा।

bride groom hand at marriage

दरअसल बरेली निवासी सुमन सिंह की शादी शाहजहांपुर के रहने वाले आशीष के साथ 28 नवंबर 2012 को हुई थी। शादी में लड़की के पिता ने 30 लाख रुपए खर्च कर दिए थे। महिला का आरोप है कि शादी के बाद पति और ससुराल वाले दहेज की मांग करने लगे। पैसा न मिलने पर उन्होंने महिला को शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया। ऐसे में महिला ने परेशान होकर जुलाई 2019 में बारादरी थाने में पति सहित ससुराल के तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर दिया।

हालांकि पति को इस बात से कोई खास फर्क नहीं पड़ा। वह अपनी दूसरी शादी की तैयारियों में जुट गया। फिर बीते सोमवार उसकी दूसरी शादी का दिन आ गया। वह सजधज के बारात लेकर पीलीभीत की कोतवाली पूरनपुर क्षेत्र की रहने वाली एक लड़की से शादी करने पहुंच गया। ये शादी ब्लाक रोड पर स्थित ‘बारात घर’ में हो रही थी।

police stopped marriage

उधर जब दूल्हे राजा की पहली पत्नी को इसकी भनक लगी तो वह कोतवाली पुलिस के साथ शादी समारोह में आ गई। यहां जयमाला का कार्यक्रम शुरू होने ही वाला था कि महिला ने पुलिस संग धावा बोल दिया। पुलिस और दूल्हे की पहली बीवी को देख कोहराम मच गया। पुलिस ने दूल्हे और उसके परिजनों को हिरासत में लिया और अपने साथ थाने ले गई। हालांकि वहां दूल्हे को चेतावनी देकर छोड़ भी दिया।

दूल्हे को यूं ही छोड़ देने से उसकी पहली पत्नी निराश नजर आई। उसने बताया कि कोतवाली पुलिस द्वारा कार्रवाई न की गई तो वह उच्च अधिकारियों से शिकायत करेगी। वहीं दूसरी तरफ पुलिस का कहना है कि ये मामला कोर्ट में विचाराधीन है। दूल्हे से पूछताछ हो चुकी है। इस केस की जानकारी उच्च अधिकारियों को भी दे दी गई है।

dulhan

अब पुलिस ने भले इंजीनियर दूल्हे को जेल में नहीं डाला हो लेकिन महिला के प्रयास से उसके दूसरी शादी करने के सपने पर पानी जरूर फिर गया है। वैसे यदि आप भी पहली पत्नी को तलाक दिए बिना दूसरी शादी के ख्वाब सजा रहे हैं तो इस केस को याद कर लीजिएगा।

Back to top button