समाचार

क्या भारत में आएगी कोरोना की तीसरी लहर? PM मोदी के वैज्ञानिक सलाहकार ने बताई सच्चाई

देश इस समय कोरोना वायरस की दूसरी लहर से जूझ रहा है। यह दूसरी लहर पहली वाली से ज्यादा खतरनाक बताई जा रही है। लगभग रोज ही तीन लाख से अधिक नए कोरोना पॉजिटिव केस आ रहे हैं। वहीं पिछली बार की तुलना में इस बार मौतों का आकड़ा भी बढ़ा है। सरकार कोरोना की दूसरी लहर को हराने की कोशिश कर ही रही है कि इस बीच एक और बुरी खबर आ गई है।

देश में अब कोरोना की तीसरी लहर भी आ सकती है। इस बात की चेतावनी खुद पीएम नरेंद्र मोदी के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार के. विजयराघवन ने दी है। उन्होंने कहा कि जिस रफ्तार से कोरोना फैल रहा है उसे देख यही लगता है कि कोरोना की तीसरी लहर भी आनी संभव है। हालांकि ये तीसरी लहर कब आएगी इस विषय में कुछ स्पष्ट नहीं कहा जा सकता है। लेकिन हमे इसकी अभी से तैयारी कर लेनी चाहिए।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक केंद्र सरकार ने एक मई से 18-44 साल के लोगों के वैक्सीनेशन की घोषणा की थी। लेकिन अधिकतर राज्यों में वैक्सीन की कमी के चलते इसकी ठीक से शुरुआत नहीं हो पाई है। अभी तक 9 राज्यों के 6.71 लाख 18-44 साल के लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। आने वाले समय में ये आकड़े और भी बढ़ेंगे।

स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रेस कॉन्फ्रेंस की खास बातें:

– देश में 12 राज्य ऐसे हैं जहां कोरोना पॉजिटिव केसों कि संख्या एक लाख से अधिक है। महाराष्ट्र (644068), कर्नाटक (464383), केरल (357215), उत्तर प्रदेश (272568), राजस्थान (197045), आंध्र प्रदेश (159597), गुजरात (148297), तमिलनाडु (125230), छत्तीसगढ़ (124459), प बंगाल (120946), बिहार (110431), हरियाणा (108830) जैसे राज्य इनमें शामिल हैं।

– स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में 7 राज्य ऐसे हैं जहां कोरोना संक्रमित मामले पचास हजार से एक लाख के बीच हैं। इसके अलावा 17 राज्यों में यह केस पचास हजार से अधिक है।

– कोरोना की दूसरी लहर में मौत के आकड़ें भी बढ़े हैं। खासकर महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, दिल्ली और हरियाणा में सबसे अधिक मौतें देखी जा रही है।

– एर्नाकुलम, कोझिकोड और गुरुग्राम कुछ ऐसे जिले हैं जहां संक्रमण के केस तेजी से आ रहे हैं। अकेले बेंगलुरु में बीते एक हफ्ते में 1.49 लाख केस मिले हैं। इसके अलावा चेन्नई से 38,000 केस आए हैं।

– अभी तक भारत सरकार 16 करोड़ से अधिक वैक्सीन डोज देशभर में फ्री में दे चुकी है।

– भारत के 24 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना पॉजिटिविटी रेट 15% से अधिक है। वहीं दस राज्यों में पॉजिटिविटी रेट 5-15% है। इसके अलावा 3 राज्यों में या पॉजिटिविटी रेट 5% से कम है।

सरकार के साथ साथ आप सभी भी कोरोना वायारस की तीसरी लहर के लिए तैयार रहें। वैक्सीन लगवा लें और अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने पर काम करें।

Back to top button
?>