ब्रेकिंग न्यूज़

बंगाल में चुनाव जीतने के बाद BJP दफ्तर पर TMC ने तोड़फोड़ कर मनाया गया जश्न, अब तक हुई 11 मौत

पश्चिम बंगाल में एक बार फिर से ममता बनर्जी की पार्टी TMC पर हिंसा करने का आरोप लगा है। एक रिपोर्ट के अनुसार ममता की पार्टी के लोगों ने चुनाव में मिली जीत के बाद कई जगहों पर हिंसा की। इनके द्वारा बीजेपी के कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया गया और कई जगहों पर आग लगाई गई। बंगाल में हुई इस हिंसा में अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है। इतना ही नहीं बीजेपी पार्टी से जुड़ी दो महिलाओं का रेप भी किया गया है।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के अनुसार टीएमसी के लोगों द्वारा ये सब किया जा रहा है। राजधानी कोलकाता में स्थित ABVP के दफ्तर में तृणमूल कार्यकर्ताओं ने घुस कर वहां जमकर तोड़फोड़ की और कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की। ABVP का आरोप है कि इन लोगों ने जान-बूझकर माँ काली और भगवान हनुमान की प्रतिमाओं को भी तोड़ दिया।

ABVP की महामंत्री निधि त्रिपाठी ने कहा कि जिन्होंने भी ममता बनर्जी के खिलाफ बोला, उनका खून बहाया जा रहा है। कोलकाता में ABVP के प्रान्त कार्यालय में 150 की संख्या में TMC के गुंडे नारेबाजी और हूटिंग करते हुए आए। सोमवार दोपहर में 15-20 गुंडे भीतर घुस गए और कार्यालय में मौजूद पदाधिकारियों के साथ गाली-गलौज की। उसके बाद इन्होंने हाथापाई भी शुरू कर दी।


निधि त्रिपाठी के अनुसार, माँ काली और भगवान हनुमान की प्रतिमाओं को नीचे गिरा कर उन्हें पैरों से तोड़ा। दफ्तर में मौजूद श्यामा प्रसाद मुखर्जी, सुभाष चंद्र बोस और रवीन्द्रनाथ टैगोर की तस्वीरों को भी तोड़ा गया। इनके अनुसार 100 के करीब गुंडों ने कार्यालय को घेर लिया था।

बीजेपी महिला कार्यकर्ता को पीटा

नंदीग्राम के केन्डमारी गाँव में तृणमूल के कार्यकर्ताओं ने बीजेपी की महिला कार्यकर्ताओं को भी बुरी तरह से पीटा है। इन्हें जमीन पर पटक-पटक कर मारा गया है। इस पूरी घटना की वीडियो भी वायरल हुई। पश्चिम बंगाल में बीजेपी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय के अनुसार महिलाओं को पीटने वाले ‘TMC के मुस्लिम गुंडे’ हैं। करीब एक दर्जन लोगों की हत्या की जा चुकी है।


वहीं जब बीजेपी के कार्यकर्ता अभिजीत सरकार ने फेसबुक पर लाइव आकर तृणमूल की गुंडागर्दी के बारे में बताया तो उन्हें भी मार दिया गया। फेसबुक पर लाइव आने के कुछ ही घंटों बाद उनकी हत्या कर दी गई। उनके पालतू कुत्तों के बच्चों को भी मार डाला।

बीजेपी के अलावा ममता की पार्टी पर वामपंथी नेता ने भी इसी तरह के आरोप लगाए हैं। JNU छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष के अनुसार ममता बनर्जी के कार्यकर्ता विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं के घरों पर हमले कर रहे हैं, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।CPI(M) के वरिष्ठ नेता सीताराम येचुरी ने भी कहा कि TMC जिस तरह हिंसा कर जीत का जश्न मना रही है, वो निंदनीय है। ऐसी हिंसा का प्रतिकार किया जाएगा, ये स्वीकार्य नहीं है। कोविड-19 महामारी से निपटने की बजाए ममता बनर्जी अराजकता फैलाने में लगी हैं।

इसी बीच बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा आज मृत कार्यकर्ताओं के परिजनों से मुलाकात करेंगे। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बंगाल से रिपोर्ट रिपोर्ट तलब की है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने DGP और कोलकाता के कमिश्नर को सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।

Show More
Back to top button