समाचार

खुशखबरी: 12 से15 साल के बच्चों के लिए आई कोरोना वैक्सीन, 100 प्रतिशत है असरदार

कोरोना वैक्सीन का ट्रायल अब बच्चों पर भी किया जा रहा है और बच्चों पर भी कोरोना की वैक्सीन असरदार साबित हो रही है। वैक्सीन बनाने वाली अमेरिकी कंपनी फाइजर इंक और बायोनटेक एसई ने हाल ही में 12 साल से कम उम्र के बच्चों पर वैक्सीन का ट्रायल शुरू किया था और अब इस ट्रायल को लेकर कंपनी की ओर से एक बयान आया है। जिसमें कंपनी ने दावा किया है कि 12 से 15 साल तक के बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन सौ प्रतिशत असरदार साबित हुई है।

दरअसल इस समय अमेरिका में 15 साल से कम आयु के बच्चों को कोरोना की वैक्सीन नहीं दी जा रही है। इस समय केवल 16 वर्ष और उससे अधिक उम्र के युवाओं को फाइजर की वैक्सीन इस देश में लगाई जा रही है। वर्तमान में Pfizer / BioNTech वैक्सीन का उपयोग संयुक्त राज्य अमेरिका में 16 और 17 साल के बच्चों पर हो रहा है। जबकि मॉडर्ना 18 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों को दिया जा रहा है।

वहीं अब फाइजर का ट्रायल 12 से 15 साल तक के बच्चों पर किया जा रहा है। जो की कामयाब साबित हो रहा है। कंपनियों को उम्मीद है कि 2022 तक टीकाकरण की उम्र को बढ़ा दिया जाएगा। वहीं मॉडर्ना इंक ने भी पिछले हफ्ते एक ट्रायल शुरू किया था जिसके तहत 6 महीने तक के बच्चे को भी टीका दिया गया था।


गौरतलब है कि भारत में अधिक उम्र और फ्रंटलाइन वारियर्स को वैक्सीन दी जा रही है। भारत में इस समय केवल दो ही वैक्सीन का प्रयोग किया जा रहा है। जो कि कोवैक्सीन और कोविशील्ड है। हमारे देश में अभी बच्चों को टीका नहीं लगाया जा रहा है।

वहीं एक अप्रैल से भारत में 45 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण शुरू किया जाएगा। इस टीकाकरण को शुरू करने से पहले केंद्र ने बुधवार को राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ समीक्षा बैठक भी की है। इस दौरान ऐसे क्षेत्रों की पहचान करने को कहा गया है जहां टीकाकरण कराने वाले लोगों की संख्या कम है और जहां पर संक्रमण के नए मामलों में वृद्धि हो रही है। आपको बता दें कि अभी तक भारत में 6 करोड़ से अधिक लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

Back to top button