बॉलीवुड

जिस लड़की ने सहारा दिया उसी के पति को दिल दे बैठी थीं स्मृति ईरानी, फिर उसकी बेटी का भी किया..

कैबिनेट मिनिस्टर और टीवी की तुलसी मतलब स्मृति ईरानी ने 23 मार्च को अपना 45वां जन्मदिन मनाया है. तुलिस का जन्म 23 मार्च, 1976 को देश की राजधानी दिल्ली में हुआ था. स्मृति का पुराना नाम स्मृति मल्होत्रा था. आज वह देश की सबसे बड़ी पार्टी BJP की केंद्रीय मंत्री है. उन्हें आज देश से लेकर विदेश तक हर कोई जानता है. स्मृति ईरानी की पूरी जिंदगी ही बेहद दिलचस्प रही है.

स्मृति जैसे ही 16 साल की ईं उनके शौक बदलने लगे थे. मगर उनके घर के हालात ज्यादा ठीक नहीं थे. पिता कुरियर कंपनी चलाते थे, लेकिन ज्यादा कमाई नहीं होती थीं. इसी समय पिता की मदद के लिए वह दिल्ली में ब्यूटी प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग करने का काम करने लगीं. इसी दौरान उन्हें किसी ने मॉडलिंग करने की सलाह दे दी. इसके बाद वह मुंबई आई. मुंबई में उन्होंने 1998 में मिस इंडिया के लिए ऑडिशन दिया और चुनी भी गई. मगर उनके पिता उनके इस कॉन्टेस्ट में भाग लेने से खुश नहीं थे.

इस बारे में बात करते हुए स्मृति ने अपने एक इंटरव्यू में बताया था कि, मैंने 1998 में मिस इंडिया कॉन्टेस्ट में भाग लिया था, मगर इस दौरान मेरे घर वालों को इस बात की कोई जानकारी नहीं थीं. मैं देखने और दिखने में किसी मॉडल के आस-पास भी नहीं ठहरती थीं. इसलिए जब मुझे कॉन्टेस्ट के लिये शार्ट-लिस्ट कर लिया गया तो मुझे इस बात पर कोई यकीं नहीं हुआ. यहीं से मैं मुंबई आ गई.

मुंबई में उन्होंने पैसे कमाने के लिए रेस्त्रां में फर्श साफ करने का काम किया. रेस्त्रां में नौकरी करते वक्त स्मृति की मुलाकात एक अमीर पारसी लड़की मोना ईरानी से हो गई थीं. मोना स्मृति के पति की पहली पत्नी थीं. मोना, स्मृति से मिली तो दोनों की दोस्ती हुई बाद में दोनों की दोस्ती बढ़ गई. स्मृति को परेशानियों से परेशान होते देख मोना ने उनके फ्लैट का किराया भी दिया और बाद में उन्हें अपने साथ घर रहने के लिए लें गई.

मोना के घर जाने के बाद स्मृति की दोस्ती उनके पति जुबिन से हो गई. यह दोस्ती धीर-धीरे प्यार में बदल गई. हालांकि, जब स्मृति टीवी शो में काम करने लगी तो वे अलग रहने लग गई थीं. इसके बाद मोना और जुबिन भी अलग हो गए और दोनों ने तलाक लें लिया. इसके बाद स्मृति और जुबिन ने एक दूसरे से शादी कर ली.

स्मृति ईरानी जब ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ की शूटिंग में व्यस्त हुआ करती थी. उसी दौरान उनेक बड़े बेटे जोहर का जन्म 2001 में हुआ. इसके ठीक दो साल बाद 2003 में स्मृति ने बेटी जोइश को जन्म दिया. इसके साथ ही स्मृति ईरानी की एक सौतेली बेटी भी है. उनकी यह बेटी अमेरिका की जॉर्जटाउन यूनिवर्सिटी से लॉ की पढ़ाई कर रही है. यह जुबिन और मोना की बेटी है. उनकी इस लड़की का नाम शनेल है.

स्मृति ने बताया था कि उन्होंने जुबिन से शादी इसलिए की थीं क्योंकि मुझे उनकी जरुरत थीं. मैं उनसे एडवाइस लेती थी, उनसे कई बार बात करती थी, हम रोज मिलने लगे थे. तो हमने सोचा कि क्यों ना हम एक-दूसरे से शादी कर लें और हमेशा एक दूसरे के साथ और पास ही रहे. हमारे घर वाले भी इस शादी से खुश थे.

Back to top button