दिलचस्प

बिना हेलमेट ट्रक चलाने पर काटा 1000 का चालान, लोग परिवहन विभाग से बोले- कौन सा नशा करते हो?

परिवहन विभाग जनता से बार बार हेलमेट पहनकर गाड़ी चलाने की विनती करता है। ऐसा न करने पर उनका चालान भी काटा जाता है। अब ये बात तो सभी जानते हैं कि दौ पहिया वाहन चलाते समय हेलमेट पहनने का नियम है। लेकिन ऐसा कोई नियम नहीं है कि चार पहिया वहां चलते समय भी आपको हेलमेट पहनना होगा। ऐसे में किसी भी चार पहिया वाहन चालक का चालान नहीं कटना चाहिए।

लेकिन ओडिशा के गंजम जिले में परिवहन विभाग के अधिकारियों की बड़ी लापरवाही देखने को मिली है। यहां परिवहन विभाग के अधिकारियों ने ट्रक चलाने वाले एक बंदे का एक हजार रुपए का चालान काट दिया। इतना ही नहीं उन्होंने उसे ये रुपए भरने पर मजबूर भी किया। बंदे पर आरोप लगाया गया कि उसने ट्रक चलते समय हेलमेट नहीं पहना था।

दरअसल पीड़ित शख्स का नाम प्रमोद कुमार है। वह हाल ही में गंजम जिले के परिवहन विभाग के ऑफिस में अपने वाहन का परमिट रिन्यू कराने गया था। इस दौरान उसे बताया गया कि उसके वहां का एक चालान पेंडिंग पड़ा है। उन्होंने इस वाहन का नंबर OR-07W/4593 बताया।

जब प्रमोद कुमार ने अधिकारियों से पूछा कि ये चालान किस चीज का काटा गया है तो उनका जवाब सुन वह हैरान रह गया। अधिकारियों ने उससे कहा कि आप बिना हेलमेट ड्राइविंग कर रहे थे इस कारण आपका चालान काटा गया है। अब यहां हैरत वाली बात ये थी कि परिवहन विभाग के अधिकारी जिस वाहन नंबर OR-07W/4593 की बात कर रहे थे वह ट्रक का था। प्रमोद ने यह बात अधिकारियों को बताई भी कि उसका वाहन बाइक नहीं ट्रक है। लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। अधिकारी नहीं माने।


अब मजबूरन में प्रमोद कुमार को ‘बिना हेलमेट के ड्राइविंग’ का चालान भरना पड़ा। तब जाकर अधिकारियों ने उसका परमिट रिन्यू किया। इसके बाद प्रमोद कुमार ने पत्रकारों से भी बातचीत की। उसने अपनी दुखभरी व्यथा सुनाते हुए बताया कि वह लगभग तीन साल से ट्रक चला रहा है। उसकी ट्रक वाटर सप्लाई का काम करती है। हाल ही में उसका ट्रक चलाने का परमिट समाप्त हो गया था। बस इसीलिए वह आरटीओ ऑफिस इसे रिन्यू कराने के लिए गया था।

हालांकि ऑफिस में जब उसे पता चला कि उसका बिना हेलमेट गाड़ी चलाने का चालान पेंडिंग है तो उसके होश उड़ गए। उसे समझ नहीं आया कि ऐसा कैसे हो सकता है। हैरत की बात तो ये थी कि अधिकारियों को जब बताया गया कि आप ट्रक का बिना हेलमेट गाड़ी चलाने का वाहन काट रहे हैं तो भी वे नहीं माने और उन्होंने जुर्माना वसूल किया।

Back to top button
?>