उत्तर प्रदेश : योगी आदित्‍यनाथ ने महापुरुषों के नाम पर मिलने वाली छुट्टियों की कर दी ‘छुट्टी’!

लखनऊ – मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली यूपी कैबिनेट ने अब तक चार बार बैठक की है और चारों बार ऐसे फैसले लिए हैं जो ऐतिहासिक हैं। इन फैसलों को लेने की हिम्मत पिछली सरकारों ने पांच सालों में भी नहीं दिखाई होगी। योगी कैबिनेट ने आज चौथी बैठक में पांच महत्वपूर्ण फैसले किए हैं। जिनमें – एंटी भू-माफिया टास्क फोर्स का गठन, सार्वजनिक स्थलों पर धर्म के नाम पर कब्जा करने पर रोक और महापुरुषों के नाम पर 15 छुट्टियां रद्द करने का फैसला अहम रहा। योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में कैबिनेट की चौथी बैठक करीब दो घंटे तक चली। UP government cancels public holidays.

 

योगी सरकार ने रद्द की ये 15 छुट्टियां –

UP government cancels public holidays

उत्तर प्रदेश सरकार की चौथी कैबिनेट बैठक में महापुरुषों के जन्मदिन पर मिलने वाली छुट्टियों को रद्द कर दिया गया है। इसके तहत साल में 15 छुट्टियां रद्द की गई हैं। जो छुट्टियां रद्द हुई हैं वो 24 जनवरी, 5 अप्रैल, 14 अप्रैल, 17 अप्रैल, 9 मई, रमजान का आखिरी शुक्रवार, 21 सितंबर, महर्षि वाल्मिकी जयंती, छठ पर्व (26 अक्टूबर), 31 अक्टूबर, ईद-ए-मिलाद, और 23 दिसंबर हैं। गौरतलब है कि इनमें से कई छुट्टियों को जाति या संप्रदाय विशेष की भावनाओं का सम्मान करने के उद्देश्य से घोषित किया गया था।

शहीदों की जयंती के मौके पर होगा विशेष आयोजन –

चौथी कैबिनेट बैठक के बाद राज्य सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत मिश्रा ने बताया कि शहीदों या महापुरुषों के जन्मदिवस पर छुट्टियां रद्द करने का प्रस्ताव कैबिनेट में मंजूर कर लिया गया है। महापुरुषों की जयंती पर होने वाली 15 छुट्टियों को उत्तर प्रदेश सरकार रद्द कर रही है। इसके लिए 15 छुट्टियों को चिन्हित किया गया है। उन्होंने कहा कि शहीदों की जयंती पर होने वाली छुट्टियों को रद्द किया गया है लेकिन उन शहीदों की जयंती के मौके पर विशेष आयोजन होंगे।

सुकमा के शहीदों को 30-30 लाख की आर्थिक मदद –

योगी सरकार की कैबिनेट बैठक के बाद प्रेस को जानकारी देते हुए मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया कि सरकार ने छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में सोमवार को हुए नक्सलियों के हमले में मारे गए शहीद जवानों के परिजनों को आर्थिक मदद देने का फैसला किया है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार की ओर से शहीदों के परिजनों को 30-30 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। आपको बता दें कि 25 अप्रैल को छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में हुए नक्सली हमले में 24 जवान शहीद हो गए थे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.