जानिए कैसे, 30 सितम्बर तक काला धन बन सकता है सफ़ेद?

 

arun-jaitley_0

भारत में बढ़ती टैक्स चोरी और काले धन के मुद्दे को ध्यान देते हुए, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज बहुत ही कड़े शब्दों में कहा कि जिन लोगों के पास कालाधन है वे 30 सितंबर तक उसकी घोषणा कर दें और इसके लिए निर्धारित कर एवं जुर्माना चुका कर साफ हो लें।

जेटली ने घरेलू स्तर अघोषित संपत्ति और आय के खुलासे के लिए शुरू की गई अनुपालन विंडो के मद्देनजर आईसीएआई, आईसीएसआई, आईएमएफ और दिल्ली बार एसोसिएशन जैसे उद्योग एवं व्यापार संगठनों और पेशेवरों के संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ चर्चा के बाद कहा कि इस अनुपालन विंडो के तहत 45 फीसदी कर एवं जुर्माना चुकाकर कालेधन को सफेद किया जा सकता है। इस स्कीम के तहत घोषित आय के बारे में किसी दूसरी एजेंसी को जानकारी नहीं साझा की जायेगी।

इससे पहले प्रतिनिधियों से चर्चा में उन्होंने कहा कि,” विकसित देशों की तुलना में भारत में कराधान की दर बहुत कम है। उन्होंने कहा कि जो लोग अपनी अघोषित आय और संपत्ति के बारे में बताना चाहता है और पाक-साफ निकलना चाहते हैं उनके लिए आय घोषणा योजना, 2016 एक सुनहरा अवसर है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 − one =